Sports

नई दिल्ली : एफआईजी आर्टिस्टिक जिमनास्टिक वल्र्ड चैलेंज कप में स्वर्ण पदक की बड़ी कामयाबी के बाद भारतीय स्टार जिमनास्ट दीपा करमाकर ने अगस्त में शुरू होने जा रहे 18वें एशियन गेम्स में भी देश के लिए गोल्ड जीतने की उम्मीद जताई है। दीपा ने हालांकि माना कि आगामी एशियन गेम्स उनके लिए बड़े और चुनौतीपूर्ण होंगे लेकिन उन्हें यहां पदक का भरोसा है। दीपा ने गत रविवार तुर्की में हुए विश्व चैंलेंज में गोल्ड पदक जीता था जो भारत का जिमनास्टिक में किसी अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में पहला गोल्ड भी है।
PunjabKesari
दीपा ने यहां एशियाई खेलों के लिए अपनी तैयारियों के बारे में पत्रकारों से कहा- मैं जानती हूं कि एशियन गेम्स बहुत ही मुश्किल हैं क्योंकि यहां चीन, जापान, दक्षिण कोरिया, ईरान और इराक जैसे देश हिस्सा लेते हैं लेकिन मुझे इस बात का आत्मविश्वास है कि मैं भी पदक जीत पाऊंगी। इस बीच दीपा ने अपने कोच और मेडिकल टीम की भी प्रशंसा की जिन्होंने उन्हें चोट से उबरने में मदद की। इसके अलावा उन्होंने खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर और जिमनास्टिक फेडरेशन का वैश्विक स्तर के टूर्नामेंट में सहयोग के लिए आभार जताया।
PunjabKesari
त्रिपुरा की एथलीट ने कहा- मैं 2 साल तक चोट के कारण बाहर रही और खिलाडिय़ों के लिए वापसी करना हमेशा मुश्किल होता है। लेकिन मुझे जो सहयोग मिला उससे मैं वापसी कर सकी। दीपा 18 अगस्त से इंडोनेशिया में शुरू होने वाले एशियन गेम्स के लिए 10 सदस्यीय भारतीय जिमनास्टिक दल का हिस्सा हैं।