Sports

कोलकाता : पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने गुरुवार को वनडे विश्व कप के बाद भी महेंद्र सिंह धोनी को टीम में बनाये रखने की वकालत की और कहा कि अगर कोई प्रतिभावान है तो उम्र कोई मुद्दा नहीं होना चाहिए। विश्व कप अब पास में है और लोगों को लगता है कि धोनी का यह अंतिम अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट होगा लेकिन गांगुली की सोच इससे हटकर है।

PunjabKesari

गांगुली ने कहा, ‘धोनी विश्व कप के बाद भी बने रह सकते हैं। अगर भारत विश्व कप जीतता है और धोनी लगातार अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो फिर उन्हें संन्यास क्यों लेना चाहिए। अगर कोई प्रतिभावान है तो फिर उम्र मसला नहीं होना चाहिए।’ गांगुली ने वर्तमान भारतीय तेज आक्रमण को शानदार करार दिया और कहा कि जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी की जोड़ी विश्व कप में अहम भूमिका निभाएगी। उन्होंने कहा, ‘भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण शानदार है। चाहे बुमराह हो या शमी भारतीय तेज गेंदबाज लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। इंग्लैंड में तेज गेंदबाज टीम के लिये महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।’

PunjabKesari

गांगुली के अनुसार भुवनेश्वर कुमार विश्व कप में तीसरे तेज गेंदबाज होंगे जबकि उमेश यादव चौथे तेज गेंदबाज के रूप में इंग्लैंड जाएंगे। शिखर धवन भले ही खराब फार्म में चल रहे हों लेकिन गांगुली ने शीर्ष क्रम में रोहित शर्मा के साथ बायें हाथ के इस बल्लेबाज को बनाये रखने का पक्ष लिया। उन्होंने कहा, ‘सलामी जोड़ी में बदलाव नहीं करना चाहिए। रोहित शर्मा और शिखर धवन आदर्श जोड़ी है जो भारत को तेज शुरुआत दे सकती है। लेकिन के.एल. राहुल भी टीम में है। शिखर और रोहित को पारी शुरू करनी चाहिए। इनके अलावा राहुल है जो पारी का आगाज कर सकता है।’

PunjabKesari

गांगुली ने बल्लेबाजी क्रम के बारे में कहा कि विराट कोहली को नंबर तीन पर आना चाहिए और उनके बाद अंबाती रायुडु, धोनी और केदार जाधव को उतरना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘विराट तो विराट है। वह बेहतरीन फार्म में है। विराट को तीसरे नंबर पर ही बल्लेबाजी करनी चाहिए। रायुडु को चौथे, धोनी को पांचवें और केदार को छठे नंबर पर उतारना चाहिए।’ विजय शंकर के अच्छे प्रदर्शन से चयनकर्ताओं के लिये नया सरदर्द पैदा हो गया है और गांगुली का मानना है कि विश्व कप के लिये रविंद्र जडेजा के नाम पर विचार नहीं किया जाना चाहिए और उनकी जगह तमिलनाडु के आलराउंडर को टीम में होना चाहिए। गांगुली ने कहा, ‘रविंद्र जडेजा को विश्व कप टीम में नहीं होना चाहिए। विजय शंकर ने नागपुर मैच में शानदार गेंदबाजी की। मेरा मानना है कि विजय विश्व कप टीम में जगह का हकदार है।’ गांगुली का मानना है कि विश्व कप के लिये भारतीय एकादश की भविष्यवाणी करना अभी जल्दबाजी होगा लेकिन उन्होंने अपनी पंद्रह सदस्यीय टीम चुनी। 

विश्व कप के लिए गांगुली की भारतीय टीम :

रोहित शर्मा, शिखर धवन, के एल राहुल, विराट कोहली, अंबाती रायुडु, महेंद्र सिंह धोनी, केदार जाधव, हार्दिक पंड्या, विजय शंकर, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार और उमेश यादव।

.
.
.
.
.