Sports

जालन्धर : आईपीएल-11 में धुआंधार प्रदर्शन कर रहे चेन्नई सुपर किंग्स ने एक शर्मनाक रिकॉर्ड के मामले में मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा की बराबरी कर ली है। यह रिकॉर्ड साथी खिलाडिय़ों को रन आऊट करवाने से जुड़ा हुआ है। जयपुर के सवाई मान सिंह स्टेडियम में राजस्थान रॉयल्स के साथ खेले गए मैच में धोनी ने अपने साथी सैम बिलिंग को रन आऊट करवाकर इस रिकॉर्ड की बराबरी की। अब धोनी के नाम पर 22 बार साथी खिलाड़ी को रन आऊट करवाने का रिकॉर्ड दर्ज हो गया है। इतनी ही बार मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा भी अपने साथी खिलाडिय़ों को रन आऊट करवा चुके हैं।

केकेआर और आरसीबी के कप्तान भी हैं इस लिस्ट में
साथी खिलाड़ी को रन करवाने के मामले में दूसरे नंबर पर बने हुए हैं कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान दिनेश कार्तिक। कार्तिक 19 बार साथी खिलाड़ी को रन आऊट करवा चुके हैं। इसके बाद रोबिन उथप्पा 18 बार की बारी आती है। इस लिस्ट में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली भी हैं जो 17 बार साथी खिलाड़ी को रन आऊट करवा चुके हैं। इसके बाद चेन्नई सुपर किंग्स के सुरेश रैना 15 बार तो युसूफ पठान 14 बार भी इस लिस्ट में शामिल हैं।

हालांकि धोनी ने एक अच्छा रिकॉर्ड भी बनाया
राजस्थान के खिलाफ 23 गेंदों में 33 रन की पारी दौरान धोनी ने एक छक्का लगाकर आईपीएल-11 में अपने छक्कों की संख्या 28 कर ली। ऐसा कर एक बार फिर वह इस सीजन में सर्वाधिक छक्के लगाने के मामले में पहले नंबर पर पहुंच गए हैं। बता दें कि बीते दिन ही दिल्ली डेयरडेविल्स के ऋषभ पंत ने सनराजइर्स हैदराबाद के खिलाफ महज 63 गेंदों में खेली गई 128 रन की पारी दौरान 15 चौके और 7 छक्के लगाए थे। ऐसा कर उन्होंने सीजन में 27 छक्के लगाकर धोनी की बराबरी कर ली थी। अब राजस्थान के गेंदबाजों को एक छक्का लगाकर धोनी फिर से इस लिस्ट में नंबर वन पर पहुंच गए हैं।