Sports

ब्रेडाः गत उपविजेता भारत ने बेल्जियम के खिलाफ जबरदस्त संघर्ष वाले मुकाबले में गुरूवार को 1-1 का ड्रॉ खेला और एफआईएच चैंपियंस ट्रॉफी हॉकी टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को कायम रखा। भारत के इस ड्रॉ के बाद चार मैचों से सात अंक हो गए हैं और वह तालिका में चोटी पर आ गया है। हालांकि आज ही गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया और मेजबान हॉलैंड का मैच होना है जिससे तालिका के समीकरण बदल सकते हैं।

भारत ने अपने पहले दो मुकाबलों में पाकिस्तान को 4-0 से और ओलम्पिक चैंपियन अर्जेंटीना को 2-1 से हराया था लेकिन तीसरे मैच में उसे विश्व चैंपियन ऑस्ट्रेलिया से 2-3 से हार झेलनी पड़ी। उपविजेता टीम को मुकाबले में बने रहने के लिए यह मैच जीतना था और उसने 59वें मिनट तक एक गोल की बढ़त बना रखी थी लेकि अंतिम मिनटों में बेल्जियम के दबाव में भारतीय रक्षापंक्ति टूट गयी और बेल्जियम को पेनल्टी कॉर्नर मिल गया जिस पर उसने गोल दाग दिया।

हालांकि भारत ने अंतिम मिनट में बेल्जियम को मिले पेनल्टी कॉर्नर पर बचाव कर मैच ड्रॉ करा लिया।  भारत को हरमनप्रीत सिंह ने 10वें मिनट में मिले पेनल्टी कॉर्नर पर बढ़त दिलाई और बेल्जियम ने 59वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर पर लोइक ल्युपार्ट के गोल से बराबरी हासिल कर ली। इस ड्रॉ के बाद बेल्जियम तीन अंकों के साथ आखिरी स्थान पर है और फाइनल की होड़ से बाहर हो चुका है। भारत को अपना आखिरी लीग मैच 30 जून को हॉलैंड से खेलना है जिसके बाद फाइनल की दो टीमों का फैसला होगा। इससे पहले पाकिस्तान ने ओलम्पिक चैंपियन अर्जेंटीना को 4-1 से चौंकाया और चार मैचों में अपनी पहली जीत दर्ज की। पाकिस्तान भी फाइनल की होड़ से बाहर है।

.
.
.
.
.