Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने अपनी किताब में पूर्व कोच ग्रेग चैपल को लेकर बड़ा खुलासा किया है। वहीं रणवीर-दीपिका की रिसेप्शन में आईं साक्षी अचानक धोनी का हाथ छोड़कर निकल गईं, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो चुका है। पंजाब केसरी स्पोर्ट्स डेस्क आपके लिए लाए हैं ऐसी खबरें जो आप अपने बिजी शेड्यूल के चलते मिस कर जाते हैं। इस न्यूज़ बुलेटिन में हम आपको खेल जगत से जुड़ीं अब तक की बड़ी ख़बरों से रूबरू करवाते हैं। पढ़िए एक क्लिक में-

PM मोदी के जबरा फैन हो गए फीफा अध्यक्ष, दे दिया ये ‘स्पेशल गिफ्ट’

PM Modi

इसमें कोई दोराय नहीं कि पीएम मोदी जब भी किसी मंच से बोलते हैं तो सभी को अपना मुरीद बना लेते हैं, फिर चाहे वो किसी भी उम्र, तबके या क्षेत्र विशेष से क्यों ना हो। हाल ही में अर्जेंटीना की राजधानी ब्यूनस आयर्स में हुए 13वें जी-20 शिखर सम्मेलन में भी यही हुआ। उन्होंने अपने संबोधन से सम्मेलन में आई ताकतवर शख्सियतों का दिल जीत लिया। वहीं सम्मेलन में पीएम मोदी का संबोधन सुनकर फीफा के अध्यक्ष जियानी इंफैनटिनो भी उनके फैन हो गए और उन्होंने सम्मेलन खत्म होने के बाद पीएम मोदी से मुलाकात कर उन्हें एक स्पेशल गिफ्ट भी दिया।

लक्ष्मण ने किया बड़ा खुलासा, कहा- चैपल के दौर में कई गुटों में बंट गई थी टीम इंडिया

VVS Laxman

पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने अपनी किताब में दावा किया है कि ग्रेग चैपल कोच के रूप में अपने रुख को लेकर ‘अड़ियल’ थे और उन्हें नहीं पता था कि अंतर्राष्ट्रीय टीम को कैसे चलाया जाता है। लक्ष्मण की आत्मकथा ‘281 एंड बियोंड’ का हाल में विमोचन किया गया जिसमें उन्होंने खुलासा किया है कि ऑस्ट्रेलिया के इस पूर्व कोच के मार्गदर्शन में टीम दो या तीन गुट में बंट गई थी और आपस में विश्वास की कमी थी। लक्ष्मण ने लिखा, ‘कोच के कुछ पसंदीदा खिलाड़ी थे जिनका पूरा ख्याल रखा जाता था जबकि बाकियों पर कोई ध्यान नहीं दिया जाता था। टीम हमारी आंखों के सामने ही बंट गई थी।’

रणवीर-दीपिका की रिसेप्शन में धोनी का हाथ छोड़ निकल गईं साक्षी, फिर इन्होंने दिया ‘साथ’

MS Dhoni With Sakshi 3

साल 1995 में आई फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ आपने जरूर देखी होगी, पसंद भी की होगी, फिल्म के आखिर में मार-कुटाई के बाद ट्रेन से राज (शाहरूख खान) सिमरन (काजोल) के लिए हाथ बढ़ाते हैं और बड़ी जद्दोजहद के बाद हाथ मिलता है, दोनों की जोड़ी बनती है, लेकिन मुंबई में इस साल की सबसे चर्चित और हॉट जोड़ी रणवीर-दीपिका की रिसेप्शन पार्टी में इसके बिल्कुल उलट सीन धोनी और उनकी पत्नी साक्षी के बीच हुआ। पार्टी में धोनी के साथ आईं साक्षी अचानक उनका हाथ छोड़कर ही निकल गईं और जिसके बाद पार्टी में मौजूद टीम इंडिया के ही एक और खिलाड़ी ने मामले को संभालते हुए धोनी का साथ दिया।

कड़ी टक्कर के बावजूद पहले मुकाबले में जर्मनी से हारा 4 बार का चैंपियन पाकिस्तान

Hockey World Cup 2018

चार बार की चैम्पियन पाकिस्तान ने ओलंपिक कांस्य पदक विजेता जर्मनी को कड़ी टक्कर देने के बावजूद हॉकी विश्व कप के पूल डी मुकाबले में शनिवार को यहां 0-1 से हार गया। पाकिस्तान ने टूर्नामेंट को लेकर जिस तरह की तैयारी की थी उसे देखते हुए इस नतीजे को उसके लिए संतोषजनक कहा जा सकता है। पैसे की कमी के कारण पाकिस्तानी टीम के इस टूर्नामेंट में भागीदारी पर संदेह था लेकिन अंतिम समय में हायर कंपनी के साथ प्रायोजन समझौते से वह यहां आ सके। 

मौत की अफवाह उड़ी तो ये खिलाड़ी जाग उठा, बोला- अभी जिंदा हूं

Nathan And Brendon McCullum 2

सोशल मीडिया ऐसा प्लेटफॉर्म है, जहां चौबीसों घंटे कंटेंट की भरमार रहती है, लोग सोशल  मीडिया पर चीजें अपलोड करते रहते हैं, उनमें से कुछ बड़ी ख़बरें होती हैं, कुछ ऐसी चीजें भी होती हैं, जिन्हें मिर्च-मसाला लगाकर बड़ा दिखाया जाता है, लेकिन इस सब चीजों के साथ सोशल मीडिया पर कुछ गलत जानकारी या अफवाह भी देखने को मिल जाती है और ऐसा ही एक पूर्व क्रिकेटर के साथ भी हुआ, जिन्हें गलत जानकारी या यूं कहें की एक अफवाह के चलते ट्विटर पर बताया गया कि उक्त पूर्व क्रिकेटर अब इस दुनिया में नहीं रहे और उन्हें श्रद्धांजलि दे दी।

टाटा ओपन का खिताब जीतने से एक कदम दूर युवा लक्ष्य सेन

Lakshya Sen Badminton

भारतीय शटलर और दूसरी वरीयता प्राप्त लक्ष्य सेन ने शनिवार को यहां टाटा ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पुरूष एकल सेमीफाइनल में थाईलैंड के कांतावात लीलावीचाबुत्र को हराकर फाइनल में जगह पक्की की।टूर्नामेंट में प्रभावशाली प्रदर्शन करने वाले 17 साल के लक्ष्य ने पहला सेट गवांने के बाद शानदार वापसी करते हुए 17-21, 21-9, 21-12 से जीत दर्ज कर लगातार दूसरी बार फाइनल में जगह सुनिश्चित की।

मैच में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों से भिड़ने की कोई जरूरत नहीं: कोहली

Virat Kohli INDvsAUS Test

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि वह यहां के पिछले दौरे की तुलना में अब ज्यादा परिपक्व हो गए हैं और उन्हें आगामी टेस्ट श्रृंखला में ऑस्ट्रेलियाई खिलाडिय़ों से किसी तरह से भिडऩे की जरूरत नहीं लगती। कोहली मैदान पर आक्रामक रवैये के लिए मशहूर हैं और 30 साल का यह खिलाड़ी पिछले दौर पर ऑस्ट्रेलियाई खिलाडिय़ों से छींटाकशी में भिड़ गया था लेकिन अब भारतीय कप्तान ने कहा कि उन्होंने बीते अनुभवों से सीख ली है और उन्हें श्रृंखला के दौरान इस तरह की किसी घटना की उम्मीद नहीं है।

हमारे तेज गेंदबाजों में कोहली को परेशान करने की ताकत: पेन

Tim Paine Australia Cricketer

ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट कप्तान टिम पेन ने एडिलेड टेस्ट से पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली पर निशाना साधा है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 6 दिसंबर से एडिलेड में पहला टेस्ट खेला जाएगा। पेन का मानना है कि ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाजी आक्रमण में इतना दम है जो भारतीय कप्तान कोहली को आसानी से परेशान कर सकते हैं। पेन ने क्रिकेट एक वेबसाइट से कहा, ‘मुझे लगता है कि अगर हमारा तेज गेंदबाजी आक्रमण अपने कौशल के अनुरूप प्रदर्शन करता है तो वे उसे कोहली को परेशान कर पाएंगे।’

हिटलर के सामने भारतीय खिलाड़ियों ने खेली थी कबड्डी, किताब से सामने आई बात

Hitler

क्या आपको पता है कि अमरावती के एक छोटे से क्लब ने 1936 में र्बिलन ओलंपिक के समय जर्मनी के तत्कालीन शासक एडोल्फ हिटलर के सामने कबड्डी खेली थी या फिर महात्मा गांधी ने भारत के इस जमीनी खेल के फायदे बताते हुए लेख लिखा था?  लेखक विवेक चौधरी की किताब  ‘कबड्डी बाई नेचर ’ में कुछ ऐसे ही दिलचस्प किस्से हैं। किताब में इस बात का भी जिक्र है कि कैसे गांव का खेल माने जाने वाले कबड्डी ने शहरों में अपनी पहचान बनाई और मिट्टी के मैदान पर खेले जाने वाला यह खेल इनडोर वातानुकूलित स्टेडियम तक पहुंचा।

मॉरीशस ओपन: चिक्कारंगप्पा तीसरे स्थान पर खिसके

Chikkarangappa Indian Golfer

प्रतिभाशाली गोल्फर एस चिक्कारंगप्पा ने शनिवार को यहां एफ्रो एशियन बैंक मॉरिशस ओपन के तीसरे दौर में 71 का कार्ड खेलकर संयुक्त रूप तीसरे स्थान पर खिसक गए। वह दूसरे दौर के बाद दूसरे स्थान पर थे। तीन दिन के खेल के बाद उनका कुल स्कोर 13 अंडर 203 का है। दक्षिण अफ्रीका के जस्टीन हादन ने इस दौर मे आठ अंडर 64 का कार्ड खेल संयुक्त रूप से शीर्ष पर पहुंच गए हैं जहां अमेरिका के कितयामा (70) भी है। अन्य भारतीयों में अजीतेश संधू ने तीसरे दौर में चार अंडर 68 का कार्ड खेला और वह संयुक्त रूप से 12वें स्थान पर है। उद्यन माने (73) 54वें स्थान पर खिसक गए हैं जबकि विराज मादप्पा (75) 60वें स्थान पर हैं।

.
.
.
.
.