Sports

 

केपटाउन : दक्षिण अफ्रीका पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से प्रतिबंध का खतरा मंडरा रहा है क्योंकि उसकी सरकार ने बुधवार को कहा कि वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा गंभीर दुराचार के बाद वह देश में क्रिकेट की राष्ट्रीय संस्था के मामलों में हस्तक्षेप का इरादा रखती है। खेल मंत्री नाथी मेथेथवा ने बयान में कहा कि उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को इस कदम की जानकारी दे दी है।

आईसीसी का संविधान सरकारी हस्तक्षेप को प्रतिबंधित करता है और सजा के रूप में आम तौर पर राष्ट्रीय क्रिकेट बोर्ड के स्वतंत्र रूप से काम शुरू करने तक देश की टीम को अंतरराष्ट्रीय मैचों में खेलने से प्रतिबंधित कर दिया जाता है। दक्षिण अफ्रीका सरकार और क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) के बीच तनाव क्रिकेट बोर्ड के मामलों की लंबे समय से चली आ रही जांच के कारण है।

इस जांच के बाद अगस्त को सीएसए के सीईओ थबांग मेरोई को गंभीर दुराचार के आरोप में बर्खास्त कर दिया गया था। लेकिन क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने स्वतंत्र जांचकर्ता की रिपोर्ट को सार्वजनिक करने से इनकार कर दिया और साथ ही सरकार से जुड़े दक्षिण अफ्रीका खेल महासंघ एवं ओलंपिक समिति की सीएसए के मामलों की स्वयं जांच कराने का भी विरोध किया। सीएसए को हालांकि अंतत: झुकना पड़ा और उसने फोरेंसिक जांच की रिपोर्ट इस महीने सार्वजनिक कर दी। रिपोर्ट मिलने के दो महीने से अधिक समय बाद सार्वजनिक की गई। 

 

.
.
.
.
.