Sports

एडीलेडः भारत के खिलाफ श्रृंखला के पहले क्रिकेट टेस्ट में दर्शकों की कमी को देखते क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बीसीसीआई से दिन-रात्रि टेस्ट के विरोध पर पुर्निवचार की अपील करते हुए शुक्रवार कहा कि उन्हें अगले दौरे पर एडीलेड में दूधिया रोशनी में मैच खेलना चाहिए। ऑस्ट्रेलिया के अधिकारियों ने कहा कि टेस्ट के पहले दिन मैदान में 23,802 दर्शक पहुंचे जो 2013 में इस मैदान के पुननिर्माण के बाद सबसे कम है। यह चिंता करने वाली बात है।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी से जब पूछा गया कि क्या दर्शकों की कम संख्या ने उन्हे इस बात के लिए प्रेरित किया कि एडिलेड में टेस्ट क्रिकेट दिन-रात्रि में खेला जाए तो उन्होंने कहा, ‘‘ बिल्कुल, प्रशंसक क्या चाहते है यह काफी मायने रखता है और उनकी मौजूदगी यह बता भी रही है। पिछले वर्षों में यहां बड़ी संख्या में दर्शक मौजूद थे।’’ क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुताबिक पिछले साल इस मैदान में एशेज के पहले मैच के लिए 55,000, उससे पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच के लिए 32,255 और न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट के पहले दिन मैदान में 47,441 दर्शक मौजूद थे। गुरुवार को दर्शकों की यह संख्या चार साल पहले भारत के खिलाफ यहां खेले गए मैच के पहले दिन से भी कम थी। उस मैच में 25,619 दर्शक मैदान में मौजूद थे।
adelaide stadium image

उन्होंने कहा, ‘‘ इस में कोई शक नहीं कि दिन-रात्रि टेस्ट के प्रशंसक हमसे दूर हुए है। हम एडीलेड में फिर से दिन-रात्रि टेस्ट मैच की तरफ लौटना चाहेंगे।’’ रोबर्टस ने कहा उन्हें उम्मीद है कि बीसीसीआई 2020-21 में ऑस्ट्रेलिया के अगले दौरे पर दिन रात्रि टेस्ट खेलने के लिए तैयार होगा। उन्होंने कहा, ‘‘ हम ऐसा ही उम्मीद कर रहे। हम एक बार में एक कदम लेंगे। हम यह मानते है कि टेस्ट को लेकर उनका नजरिया अलग है। उम्मीद है कि प्रशंसको की भावनाओं को ध्यान में रखकर हम दिन-रात्रि टेस्ट में खेल सकते है।’’











 

.
.
.
.
.