Sports

धनबाद (झारखंड) : इंगलैंड दौरे पर टैस्ट सीरीज में बुरी तरह हारी भारतीय टीम पर चौतरफा वार हो रहे हैं। भारतीय कप्तान विराट कोहली की तो आलोचना होनी ही थी लेकिन कोच रवि शास्त्री के पीछे भी क्रिकेट दिग्गजों हाथ धोकर पड़ गए हैं। टीम के खराब प्रदर्शन के लिए मुख्य कोच रवि शास्त्री को जिम्मेदार ठहराते हुए पूर्व टैस्ट क्रिकेटर चेतन चौहान ने साफ कह दिया है कि शास्त्री को नवंबर में ऑस्टे्रलिया दौरे से पहले इस पद से हटा देना चाहिए। 

PunjabKesari

उत्तर प्रदेश के खेल मंत्री पूर्व क्रिकेटरों द्वारा शास्त्री को कोच पद से हटाने जाने की मांग पर सहमत हैं। उन्होंने कहा- रवि शास्त्री को आस्ट्रेलिया दौरे से पहले हटा देना चाहिए। रवि शास्त्री बहुत ही अच्छे कमेंटेटर हैं और उन्हें ऐसा ही करने देना चाहिए। चौहान ने यहां पत्रकारों से कहा कि टीम इंडिया को बेहतर प्रदर्शन करना चाहिए था। दोनों टीमें बराबरी की थीं। लेकिन भारतीय टीम इंग्लैंड के पुछल्ले बल्लेबाजों पर लगाम कसने में विफल रही।

PunjabKesari

पूर्व टेस्ट सलामी बल्लेबाज ने शास्त्री के इस बयान की भी आलोचना की जिसमें उन्होंने विराट कोहली की अगुवाई वाली मौजूदा टीम को ‘विदेश का दौरा करने वाली सर्वश्रेष्ठ टीम’ करार दिया था। उन्होंने कहा- मैं इस बात से सहमत नहीं हूं। 1980 के दशक में भारतीय टीम विश्व का दौरा करने वाली सर्वश्रेष्ठ टीम थी। दुबई में एशिया कप क्रिकेट चैम्पियनशिप में भारत की संभावनाओं के बारे में चौहान ने कहा कि टीम में युवा और अनुभवी खिलाडिय़ों का अच्छा मिश्रण है जिससे बेहतर नतीजे की उम्मीद है। चौहान से पहले पूर्व कप्तान सौरव गांगुली और वीरेंद्र सहवाग भी शास्त्री को हटाने की मांग कर चुके हैं।