Sports

कोलकाताः विंडीज के पूर्व कप्तान कार्ल हूपर ने कहा है कि अगर हमारे सीनियर खिलाड़ी खेलते तो भारत के लिए आसान नहीं होगा। यह युवा टीम है और उन्हें समय की जरूरत है। वहीं उन्होंने क्रिस गेल, आंद्रे रसेल और सुनील नारायण जैसे खिलाडय़ों पर निशाना साधते हुए कहा कि यह शर्म की बात है कि शीर्ष कैरेबियाई खिलाडिय़ों की देश की ओर से खेलने में दिलचस्पी नहीं है।
Carl Hooper

भारत आई विंडीज की विश्व टी20 चैंपियन टीम को रविवार को यहां ईडन गार्डन्स में पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में पांच विकेट से हार का सामना करना पड़ा था। खिलाड़ी चोटों या फिर ‘निजी समस्याओं’ के कारण नहीं खेल रहे। इन निजी समस्याओं में क्रिकेट बोर्ड के साथ लंबे समय से चले आ रहे विवाद की अहम भूमिका है। 
india vs windies image

क्रिकेटर से कमेंटेटर बने 51 साल के हूपर ने कहा, ‘‘यह स्पष्ट है कि उनकी विंडीज की ओर से खेलने में दिलचस्पी नहीं है। यह शर्मनाक है।’’ भारत के खिलाफ मैच में विंडीज की टीम में पदार्पण करने वाले तीन खिलाड़ी शामिल थे। फाबियान एलेन ने भी इस मैच से टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया और सर्वाधिक 27 रन बनाए। विंडीज की टीम हालांकि आठ विकेट पर 109 रन ही बना सकी।
Chris gayle image          

इस साल विंडीज का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है और टीम आठ मैचों में से सिर्फ दो में ही जीत दर्ज कर पाई है। जुलाई-अगस्त में बांग्लादेश के खिलाफ अमेरिका में हुई पिछली श्रृंखला में टीम को 1-2 से हार का सामना करना पड़ा था।      


 

.
.
.
.
.