Sports

स्पोर्ट्स डेस्कः भारतीय क्रिकेट टीम को तीसरे टेस्ट में आस्ट्रेलिया पर जीत दिलाने में तेज गेंदबाजों की तिकड़ी जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा और मोहम्मद शमी ने अहम भूमिका निभाई। बुमराह ने मैच में 86 रन देकर 9 विकेट चटकाए जिसके लिए उन्हें 'मैन आफ द मैच' चुना गया।
ishant sharma image

वहीं इस तिकड़ी ने मिलकर 34 साल का रिकाॅर्ड भी तोड़ा। साथ में नया इतिहास रचाय़ इस तिकड़ी ने मेलकम मार्शल, माइकल होल्डिंग और जोएल गार्नर की वेस्टइंडीज की तिकड़ी का रिकॉर्ड तोड़ा जिन्होंने 1984 में विदेशी दौरों पर 130 विकेट चटकाए थे। वहीं अब बुमराह, शमी और ईशांत ने मिलकर एक कैलेंडर ईयर में विदेशी सरजमीं पर 136 विकेट चटकाए, जिसमें बुमराह के 48, शमी के 46 और ईशांत के 40 विकेट शामिल हैं।
mohammed shami image

यह साल रहा बुमराह के नाम
इस साल भारत के सबसे सफल तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह रहे। बुमराह ने साल की शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया और अबतक कुल 9 मैचों की 18 पारियों में 21.02 की औसत और 47.4 के स्ट्राइक रेट से कुल 48 विकेट हासिल किए। वो साल 2018 में टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ियों की सूची में कगिसो रबाडा(52), दिलरुवान परेरा(50) और नाथन लॉयन(49) के बाद  चौथे नंबर पर रहे,जबकि मोहम्मद शमी(47) पांचवें और इशांत शर्मा(41) नौवें पायदान पर रहे।  
jasprit bumrah image

डेब्यू वर्ष में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज 
बुमराह डेब्यू वर्ष में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ियों की सूची में भी तीसरे पायदान पर रहे। ऑस्ट्रेलिया के टैरी एल्डरमैन ने साल 1981 में अपने डेब्यू वर्ष में 54 टेस्ट विकेट चटकाए थे। उनके बाद दूसरे पायदान पर वेस्टइंडीज के पूर्व दिग्गज कर्टली एम्ब्रोस हैं उन्होंने साल 1988 में अपने डेब्यू वर्ष में 49 विकेट लिए थे। 

 

.
.
.
.
.