Sports

राजकोट : भारत दौरे पर आई वैस्टइंडीज टीम को पहले ही टैस्ट मैच में भारत के हाथों शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा। वैस्टइंडीज के रैगुलर कप्तान जेसन होल्डर चोट के कारण पहले ही पहले टैस्ट से बाहर हो गए थे। ऐसे में उनकी जगह क्रेग ब्रेथवेट को कार्यवाहक कप्तान बनाया गया था। ब्रेथवेट कप्तानी के मिले मौके को भुना नहीं सके और उनकी टीम भारतीय गेंदबाजों के आगे घुटने टेकती नजर आई। हार के बाद कारण तलाशते हुए ब्रेथवेट ने कहा कि हम पहले टैस्ट में आक्रामक शाट्स खेलने के दोषी रहे। लेकिन हमें सतर्कता और आक्रामकता में सही संतुलन बिठाना होगा। 

PunjabKesari

भारत ने 2 मैचों की श्रृंखला के शुरूआती मुकाबले में पारी और 272 रन से जीत दर्ज की जिसके बाद ब्रेथवेट ने कहा-आगे बढ़ते हुए हमें आक्रामक शाॅट्स के अलावा रक्षात्मक होने पर भी भरोसा दिखाना होगा। निश्चित रूप से क्षेत्ररक्षण करते हुए विपक्षी टीम के खिलाड़ी पीछे हो जाते हैं तो डिफैंस में भी सकारात्मक रहना और खराब गेंदों को दूर करना तथा एक रन के लिए इन्हें भेजना मायने रखता है। मुझे नहीं लगता कि हमने अपने डिफैंस पर इतना भरोसा नहीं किया जितना हमें करना चाहिए था। 

PunjabKesari
ब्रेथवेट ने भारतीय बल्लेबाज पृथ्वी शॉ की भी जमकर सराहना की। उन्होंने कहा कि पृथ्वी ने जिस तरीके से भारतीय पारी की शुरुआत की वह धीरे-धीरे हमारे हाथ से मैच को दूर ले गए। वहीं, भारत के गेंदबाज भी कमाल के रहे। खास तौर पर भारतीय स्पिनरों का सामना करना मुश्किल रहा। हमारी टीम तीसरे दिन दो बार आऊट हो गई। यह शर्मनाक हार है। 

.
.
.
.
.