Sports

जालंधर : टेस्ट क्रिकेट में 500 विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज वेस्टइंडीज के कर्टनी वॉल्श 56 साल के हो गए हैं। जमायका का यह मशहूर स्टार अपनी साढ़े 6 फीट लंबी हाइट के अलावा एक अनोखी हैट्रिक लगाने के लिए भी जाना जाता है। दरअसल, टेस्ट क्रिकेट में कर्टनी वॉल्श ऐसे एकमात्र गेंदबाज हैं, जिन्होंने 2 पारियों में एक हैट्रिक बनाई। यानी 1988 में ब्रिस्बेन के मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने पहली पारी में टोनी डोडामाइड को आउट कर पारी समेटी। वहीं, दूसरी पारी की पहली ही दो गेंदों पर माइक वेलेटा और ग्रीम वुड का विकेट निकालकर हैट्रिक बना ली।

सिर्फ एक रन देकर झटके थे 5 विकेट

Courtney walsh

वॉल्श के नाम दिसंबर 1986 में श्रीलंका के खिलाफ वनडे मैच में बनाया गया रिकॉर्ड भी बेहद चर्चा में रहा। इस मैच में कर्टनी वॉल्श ने श्रीलंका के 5 बल्लेबाजों की विकेट तो ली ही, साथ ही रन दिया सिर्फ एक। शारजाह में खेले गए उस मैच में वेस्टइंडीज ने 193 रन से जीत हासिल की थी। यह उनके वनडे करियर का सर्वश्रेष्ठ स्पैल था। वॉल्श ने अपने 17 साल लंबे करियर में 5 हजार से ज्यादा ओवर फेंकी। इस दौरान उन्होंने 24 की औसत से 519 विकेट झटके। इसमें 22 फाइव विकेट हॉल भी शामिल हैं।

टेस्ट क्रिकेट में पहले 500 विकेट लेने वाले गेंदबाज

Courtney Walsh

कर्टनी वॉल्श टेस्ट क्रिकेट में 500 विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज हैं। उनसे पहले भारत के कपिल देव 434 विकेट ले कर पहले नंबर पर चल रहे थे। वॉल्श ने 2001 में साउथ अफ्रीका के जैक्स कैलिस को आउट कर 500वां विकेट झटका। उन्होंने कर्टली एंब्रोस के साथ जोड़ी बनाई। दोनों ने 49 मैचों में मिलकर अपने देश के लिए 421 विकेट झटके। वॉल्श के नाम पर टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक 43 बार शून्य पर आउट होने और 61 बार नॉट आउट रहने का रिकॉर्ड भी है।

.
.
.
.
.