IPL 2019
Sports

जालन्धर : श्रीलंका के दिग्गज क्रिकेटर अजंता मेंडिंस 33 बरस के हो गए हैं। वनडे क्रिकेट में रिकॉर्ड 19 मैचों में 50 विकेट लेकर चर्चा में आए अजंता को ‘कैरम बॉल’ का जन्मदाता माना जाता है। 2008 में श्रीलंका टीम जब भारत के दौरे पर आई थी तो तीन मैचों की सीरीज में अजंता ने भारतीय बल्लेबाजों को अपनी ऊंगलियों पर नचाया था। उक्त सीरीज के तीन मैचों में अजंता ने 26 विकेट झटके थे। उनकी बॉलिंग देखकर खुद श्रीलंका के दिग्गज स्पिनर मुरलीधरन ने कहा कि इतनी उम्र में तो वह भी इतने टे्रंड नहीं थे। उन्होंने मेंडिंस को श्रीलंकाई स्पिनिंग का भविष्य तक बोल दिया था।

टीम इंडिया के खिलाफ प्रदर्शन कर चर्चा में आए थे मेंडिंस
Birthday Special : Carrom ball specialist Ajantha Mendis

अजंता मेंडिंस को पहली प्रसिद्धि 2008 के भारत दौरे के दौरान मिली थी। अजंता को तब श्रीलंका की टीम में पार्ट टाइम स्पिनर के तौर पर डाला गया था लेकिन उन्होंने पहले ही टेस्ट में 8 विकेट लेकर सबका ध्यान खींच लिया। कुल तीन मैचों की सीरीज में मेंडिंग ने 26 विकेट झटक लिए थे। जो कि डैब्यू करने वाले किसी भी बॉलर के लिए सीरीज में सर्वाधिक विकेट थे। मेंडिंस ने सहवाग को छोड़कर बाकी सभी बल्लेबाजों को उक्त सीरीज में परेशान कर रखा था।

दो बार झटके टी-20 में 6-6 विकेट
Birthday Special : Carrom ball specialist Ajantha Mendis

मेंडिंस टी-20 क्रिकेट में संभवत: ऐसे पहले गेंदबाज है जो दो मैचों में 6-6 विकेट निकालने का रिकॉर्ड अपने नाम कर चुके हैं। मेंडिंस ने अगस्त 2011 में पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 16 रन देकर 6 विकेट झटके तो सितंबर 2012 में जिम्बाब्वे के खिलाफ उन्होंने महज 8 रन देकर 6 विकेट लेने का कारनामा दोबारा कर दिखाया। 

2009 के लाहौर अटैक में जख्मी हुए थे अजंता
Birthday Special : Carrom ball specialist Ajantha Mendis

3 मार्च 2009 को, श्रीलंका और पाकिस्तान के बीच दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन के खेल के लिए जब श्रीलंकाई टीम लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम की ओर बस से जा रही थी तो कुछ नकाबपोश बंदूकधारियों ने गोलीबारी कर दी थी। इस घटना में मेंडिस समेत सात श्रीलंकाई क्रिकेटरों को चोटें आई थीं। उक्त हमले में बस की सुरक्षा में लगे पांच पुलिसकर्मी भी मारे गए थे।

बोनस में : अजंता मेंडिस का टेस्ट क्रिकेट में 6/117, वनडे में 6/13 तो टी-20 में 6/8 का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन दर्ज है।

.
.
.
.
.