Cricket

जालन्धर : भविष्य में टीम इंडिया के संभावित ओपनर या कैप्टन पृथ्वी शॉ 19 साल के हो गए हैं। देश को अंडर-19 क्रिकेट वल्र्ड कप दिलाने वाले पृथ्वी ने बीते महीने ही टेस्ट करियर का आगाज करते हुए वेस्टइंडीज के खिलाफ धमाकेदार सैकड़ा जड़ा था। महाराष्ट्र के थाणे में 9 नवंबर 1999 को जन्मे पृथ्वी शॉ पहली बार तब चर्चा में आए थे जब 2013 में उन्होंने हैरिस शील्ड टूर्नामेंट में सेंट फ्रांसिस के खिलाफ रिजवी स्प्रिंगफील्ड की ओर से खेलते हुए 330 गेंदों में 546 रन बनाए थे। पृथ्वी ने इस पारी के दौरान 85 चौके और 5 छक्के भी लगाए थे। बता दें कि घरेलू क्रिकेट में सबसे ज्यादा 1009 रन बनाने का रिकॉर्ड अभी भी प्रणव धनावड़े के नाम पर ही है। 

टेस्ट, रणजी और दिलीज ट्रॉफी डैब्यू में ठोके शतक

PunjabKesarisports prithvi shaw

पृथ्वी के नाम पर टेस्ट, रणजी और दिलीप ट्रॉफी के डैब्यू मैच में ही शतक जमाने का रिकॉर्ड दर्ज हो गया है। इससे पहले यह रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम पर था। सचिन ने रणजी, ईरानी और दिलीप ट्रॉफी के अपने डैब्यू मैचों में शतक लगाए थे। पृथ्वी ने 2017 में रणजी ट्रॉफी के सेमीफाइनल मैच में शतक लगाएया था। इसके बाद सितंबर 2017 में ही उन्हें दिलीप ट्रॉफी खेलने का मौका मिला जहां उन्होंने फिर से शतक लगाया। अभी पिछले ही महीने उन्होंने टेस्ट डैब्यू में भी शतक लगाकर यह अनोखा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया।

दूसरे सबसे कम उम्र में शतक लगाने वाले भारतीय बल्लेबाज

PunjabKesarisports prithvi shaw

पृथ्वी भारत की ओर से टेस्ट क्रिकेट में सबसे कम उम्र में शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज है। उनसे पहले सचिन ने 17 साल 112 दिन की उम्र में इंग्लैंड के खिलाफ मैनचेस्टर में खेले गए मुकाबले में शतक लगाया था। पृथ्वी के अलावा कपिल देव ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 20 साल 21दिन की उम्र तो अब्बास अली बेग ने इंगलैंड के खिलाफ 20 साल 131 दिन की उम्र में शतक लगाया था। टेस्ट क्रिकेट में डैब्यू करते हुए शतक जमाने वाले पृथ्वी 15वें भारतीय बल्लेबाज हैं। उनसे पहले रोहित शर्मा ने नवंबर 2013 में वेस्टइंडीज के खिलाफ कोलकाता के ईडन गार्डन में डैब्यू शतक लगाया था।

टेस्ट डैब्यू में सबसे कम गेंदों पर शतक, पृथ्वी तीसरे स्थान पर

PunjabKesarisports prithvi shaw

पृथ्वी ने अपने टेस्ट डैब्यू में सिर्फ 99 गेंदों पर शतक लगा दिया था। ऐसा क र वह ओवरऑल बल्लेबाजों की सूची में तीसरे नंबर पर आ गए हैं। उनसे पहले शिखर धवन ने 2013 मोहाली के मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ महज 85 गेंदों पर शतक लगा दिया था। इसके बाद वेस्टइंडीज के ड्वेन स्मिथ का नाम आता है जिन्होंने 2014 में केपटाउन के मैदान पर 93 गेंदों में शतक जमाया था।

सचिन तेंदुलकर भी कर चुके हैं तारीफ

PunjabKesarisports sachin tendulkar

पृथ्वी शॉ क्रिकेट के दिग्गज सितारे सचिन तेंदुलकर से भी तारीफ बटोर चुके हैं। दरअसल सचिन ने पहली बार पृथ्वी को 10 साल पहले नेट प्रैक्टिस के दौरान देखा था। सचिन के एक दोस्त जगदीश चव्हाण ने उनकी मुलाकात करवाई थी। सचिन ने पृथ्वी का खेल देखा और कहा- यह लड़का भारत के लिए जरूर खेलेगा। इसपर जगदीश ने सचिन से पूछा- क्या तुम्हें पूरा भरोसा है? सचिन बोले- मेरे शब्द याद रखना, यह लड़का पक्का भारत के लिए खेलेगा।