Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने शनिवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में खेले जा रहे पहले वनडे में अपने करियर के 100 विकेट पूरे किए। भुवी ने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान आरोन फिंच को क्लीन बोल्ड करके यह उपलब्धि हासिल की। वहीं बुमराह को आराम दिए जाने के बाद भुवनेश्वर कुमार की टीम में वापसी हुई है। पिछले साल नवंबर के बाद यह भुवनेश्वर का पहला वनडे था। टीम में वापसी के साथ ही भुवनेश्वर ने मैच में अपना पहला विकेट हासिल करते ही नया रिकॉर्ड कायम कर दिया।
cricket news in hindi, Ind vs Aus, first ODI, Team India, bhuvenshwar kumar, 100 wickets in ODI
साल 2012 में डेब्यू करने वाले भुवी ने 96 मैचों में 37.88 की औसत से 100 वन-डे पूरे किए। भुवनेश्वर कुमार वनडे में विकेटों का शतक पूरा करने वाले 18वें भारतीय गेंदबाज बने। दाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने नवंबर 2018 के बाद पहली बार वन-डे मैच खेला। भुवनेश्वर दुनिया के ऐसे पहले गेंदबाज हैं जिन्होंने तीनों फॉर्मेट में अपना पहला विकेट बोल्ड करके हासिल किया है। हालांकि, भुवनेश्वर की 100 विकेट पूरे करने की औसत ज्यादा प्रभावी नहीं रही और यही वजह है कि वह एक अनचाहे क्लब में भी अपना नाम दर्ज करा बैठे। भुवनेश्वर कुमार का नाम टीम इंडिया की तरफ से सबसे धीमे 100 वन-डे विकेट लेने वालों में शुमार हो गया है। 

धीमी गति से 100 वनडे विकेट लेने वाले 5 खिलाड़ियों में शामिल 
PunjabKesari
भुवी का नाम भारत के लिए सबसे धीमी गति से 100 वनडे विकेट लेने वाले 5 खिलाड़ियों की सूची में शुमार हो गया। इस मामले में पहले स्थान पर पूर्व कप्तान सौरव गांगुली काबिज हैं, जिन्होंने अपने करियर के 308वें वन-डे में यह उपलब्धि हासिल की थी। दूसरे नंबर पर महान सचिन तेंदुलकर हैं। 'क्रिकेट के भगवान' माने जाने वाले तेंदुलकर ने अपने करियर के 268वें वन-डे में विकेटों का शतक पूरा किया। इस मामले में तीसरे नंबर पर युवराज सिंह हैं। युवी ने अपने करियर के 266वें वन-डे में 100 वन-डे विकेट पूरे किए। चौथे नंबर पर टीम इंडिया के मौजूदा हेड कोच रवि शास्त्री काबिज हैं। रवि ने अपने करियर के 100वें वन-डे में 100 विकेट का आंकड़ा छुआ। इसके बाद भुवी पांचवें नंबर पर काबिज हैं।

.
.
.
.
.