Sports

बेंगलुरूः बेंगलुरू एफसी ने मीकू के गोल की मदद से रविवार को यहां खेले गए इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सत्र के अपने पहले मुकाबले में मौजूदा विजेता चेन्नइयिन एफसी को 1-0 से हराकर अपने अभियान का जीत से आगाज किया।          

खेल की शुरुआत से ही आक्रामक नजर आ रही चेन्नइयिन एफसी टीम ने अपना पूरा ध्यान छेत्री जैसे स्टार को घेरे रखने में लगाया और पहले हाफ की शुरुआत में अच्छा खेल दिखाया लेकिन इसी बीच मीकू ने मौका पाकर 41वें मिनट में जिस्को हर्नांदेज की मदद से गोल कर दिया जो आखिर में निर्णायक साबित हुआ। चेन्नइयिन एफसी ने बीते साल कांतिरावा स्टेडियम में ही खेले गए चौथे सत्र के फाइनल मैच में बेंगलुरू एफसी को 3-2 से हराया था और अब बेंगलुरू ने अपने 20 हजार प्रशंसकों की मौजूदगी में उसका हिसाब बराबर कर दिया।    

गोलपोस्ट पर पहला शॉट बेंगलुरू ने तीसरे मिनट में लिया लेकिन इसके बाद चेन्नइयिन एफसी ने बढ़त हासिल करने के दो शानदार मौके गंवाए। दोनों ही मौकों पर भारत के लिए खेलने वाले स्टार स्ट्राइकर जेजे लालपेख्लुआ चूक गए। पहले हाफ के अधिकतर समय गेंद पर चेन्नइयिन एफसी का कब्जा रहा लेकिन इसके बाद बेंगलुरू ने लय पकड़ी और 41वें मिनट में गोल करते हुए बढ़त हासिल कर ली। बेंगलुरू के लिए मैच और सत्र का पहला गोल मीकू नाम से मशहूर निकोलस लाडिसलाओ फेडोर फ्लोरेस ने किया। वैसे चेन्नइयिन एफसी ने 19वें और 32वें मिनट में गोल करने का बेहतरीन मौका गंवाया। दोनों ही मौकों के केंद्र में उसके स्टार स्ट्राइकर जेजे थे।          

जेजे के पास 32वें मिनट में एक बार फिर गोल करने का मौका था। राहुल भेखे ने गेंद को अपने साथी को देने का प्रयास किया लेकिन जेजे ने तेजी से हस्तक्षेप करते हुए गेंद अपने कब्जे में ले ली। अब उनके सामने गोलकीपर गुरप्रीत संधू थे, जिन्हें बस छकाना था लेकिन वह नाकाम रहे। दूसरे हाफ के शुरुआती मिनटों में दोनों टीमो के बीच गेंद पर नियंत्रण के लिए संघर्ष जारी रहा। सुनील छेत्री 72वें मिनट में गोल करने के काफी करीब थे लेकिन उनके बीच काल्डेरान दीवार की तरह खड़े हो गए। बॉक्स के अंदर गेंद पर नियंत्रण पाकर छेत्री ने उन्हें छकाने की कोशिश की लेकिन वह सफल नहीं हो सके।