Sports

जालन्धर : ऑस्ट्रेलिया में चल रही बिग बैश लीग के दौरान एक बड़ा ही रोचक वाक्या देखने को मिला। दरअसल पर्थ स्कॉर्चर्स और मेलबर्न स्टार्स के बीच ट्वंटी-20 मैच चल रहा था। पर्थ ने पहले खेलते हुए तीन विकेट खोकर 182 रन बनाए थे। जवाब में मेलबोर्न की ओर से बेन डक और मार्कोस स्टोइनिस बतौर सलामी बल्लेबाज क्रीज पर उतरे। लेकिन दूसरे ही ओवर में डक को संदिग्ध परिस्थितियों में कैच आऊट दे दिया गया। दरअसल डंक ने कुल्टर नील की गेंद पर जोरदार शॉट लगाया था जो प्वाइंट पर खड़े निक होब्सन के हाथ में गया। 

निक ने कैच पकडऩे के साथ ही बोल दिया कि यह क्लियर नहीं है। यह नॉटआऊट है। लेकिन पर्थ के कप्तान ने जब टीवी रिप्ले देखने की अपील की तो मैदान अंपायरी ने थर्ड अंपायरों को इशारा कर दिया। करीब 5 मिनट तक थर्ड अंपायर कैच की वीडियो देखते रहे। वीडियो देखने से यह साफ नहीं हो पा रहा था कि कैच पकड़ी गई है या नहीं। ऊपर से फील्डर निक खुद ही कैच से इंकार कर रहे थे। ऐसे में थर्ड अंपायर ने जो डिसिजन दिया वो काफी चौंकाने वाला था। थर्ड अंपायर ने इसे क्लीन कैच मानकर डंक को आऊट करार दे दिया। थर्ड अंपायर का उक्त फैसला आते ही कांमेटेटरों के साथ स्टेडियम में बैठे दर्शक भी हैरान हो गए।
आप भी देखें उक्त कैच-

.
.
.
.
.