Sports

जालन्धर : एशिया कप के तहत भारत और बांगलादेश के बीच खेले गए फाइनल के दौरान बांगलदेश के सलामी बल्लेबाजों ने जोरदार शुरुआत की। इससे पहले बांगलादेश के सलामी बल्लेबाज एशिया कप में 1, 15, 15, 16, 5 रन बना रहे थे। लेकिन फाइनल मैच में बांगलादेश के सलामी बल्लेबाज लिटन दास और मेहंदी हसन ने पहले ही विकेट के लिए 120 रन जोड़कर सबको हैरान कर दिया। बांगलादेश के लिए साल 2016 के बाद (27 मैच) से पहली बार सलामी बल्लेबाजों ने शतकीय साझेदारी निभाई है। बहरहाल, मैच दौरान लिटन तो जबरदस्त मूड में दिखे। उन्होंने न सिर्फ सैंचुरी लगाई बल्कि कई बड़े रिकॉड्र्स भी टीम के नाम कर गए।

पहला रिकॉर्ड : फाइनल में बनाया गया सबसे बड़ा स्कोर

PunjabKesari
लिटन दास ने फाइनल मैच में 121 रन बनाए। यह एशिया कप के फाइनल में किसी भी बल्लेबाज द्वारा बनाया गया दूसरा सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। इससे पहले 2008 के एशिया कप फाइनल में भारत के खिलाफ श्रीलंका के सनथ जयसूर्या ने 125 रन बनाए थे। अब लिटन दास इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर आ गए हैं। फवाद आलम 114 रनों के साथ इस लिस्ट में तीसरे, श्रीलंका के थिरमाने 101 रनों के साथ चौथे तो श्रीलंका के ही मरविन अट्टापट्टू पाकिस्तान के खिलाफ 100 रन बनाकर पांचवें स्थान पर हैं।

दूसरा रिकॉर्ड : भारत के खिलाफ फाइनल में तीसरी सबसे तेज सैंचुरी
PunjabKesari

लिटन जब ताबड़तोड़ रन बना रहे थे तब बांगलादेश का स्कोर 20 ओवर में बिना विकेट गंवाए 116 रन बन चुका था। लिटन 65 गेंदों में 85 रन बना चुके थे। हालांकि इसके बाद वह काफी स्लो हो गए। उन्होंने 87 गेंदों में अपनी सैंचुरी पूरी की जोकि भारत के खिलाफ किसी भी फाइनल में बनाई गई तीसरी सबसे तेज सैंचुरी है। इससे पहले जयसूर्या ने 2008 के एशिया कप फाइनल में भारत के खिलाफ महज 79 गेंदों में शतक जड़ दिया था। वहीं महेला जयवद्र्धने ने वल्र्ड कप फाइनल में भारत के खिलाफ 84 गेंदों में शतक जड़ा था।

तीसरा रिकॉर्ड : बांगलादेश की ओर से फाइनल में लिटन ने बनाया पहला शतक
PunjabKesari

बांगलादेश के लिए वनडे और टी-20 फार्मेट के किसी भी फाइनल में शतक बनाने वाले लिटन दास पहले बल्लेबाज भी बन गए। इससे पहले 2018 में भारत के खिलाफ फाइनल में बांगलादेश के सबीर रहमान ने 77 रन बनाए थे। इसके बाद महमदुल्लाह 76 ते शाकिब अल हसन 68 रन का नाम आता है। बता दें कि बांगलादेश ने सिर्फ दूसरी बार भारत के खिलाफ पहली विकेट के लिए शतकीय साझेदारी की है। पिछली बार तमिम इकबाल और एस सरकार ने 2015 में मीरपुर के मैदान में 102 रन जोड़े थे।

.
.
.
.
.