Sports

बैंकॉक में 37 देशो के 196 खिलाड़ियों के बीच सम्पन्न हुए बैंकॉक मास्टर्स शतरंज प्रतियोगिता में भारत के लिए दो अच्छी खबर आई । वियतनाम के नोवेन्द्र पियसमारो नें 8 अंको के साथ पहला स्थान और खिताब हाइसल किया तो भारतीय ग्रांड मास्टर दीपन चक्रवर्ती नें 7.5 अंक बनाते हुए दूसरा स्थान हासिल किया ।

PunjabKesari

दिग्गजों को पीछे छोड़ते हुए 11 वर्षीय डी गुकेश नें ना सिर्फ तीसरा स्थान हाइसल किया अपना पहला ग्रांड मास्टर नार्म हासिल कर लिया । भारतीय शतरंज के भविष्य के लिए देखे तो 12 वर्षीय प्रग्गानंधा और 13 वर्षीय निहाल पहले ही ग्रांड मास्टर बनने की दहलीज पर खड़े है ऐसे मे गुकेश का सामने आना भारत के लिए अच्छी बात है । गुकेश नें अंतिम राउंड में अमेरिकन दिग्गज तिमूर गरेव को ड्रॉ पर रोककर यह उपलब्धि हासिल की । 

 

(निकलेश जैन )