Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: कैंसर से जूझने वाले बैडमिंटन स्टार ली चोंग वेई ने गुरुवार को संन्यास लेने की घोषणा की जिससे एक बेहतरीन करियर का भी अंत हो गया जिसमें उन्होंने कई खिताब जीते लेकिन ओलंपिक स्वर्ण पदक जीतने का उनका सपना अधूरा ही रह गया। ली यहां संवाददाता सम्मेलन में संन्यास की घोषणा करते समय भावुक हो गए और उनकी आंखें नम हो गई।

PunjabKesari

इस 36 वर्षीय स्टार ने कहा, ‘मैंने भारी मन से संन्यास लेने का फैसला किया है। मैं वास्तव में इस खेल को बहुत चाहता हूं लेकिन यह काफी दमखम वाला खेल है। मैं पिछले 19 वर्षों में सहयोग और समर्थन के लिए सभी मलेशियावासियों का आभार व्यक्त करता हूं।' दो बच्चों के पिता ली को पिछले साल नाक के कैंसर का पता चला था जो शुरुआती चरण में था। इसके बाद उन्होंने ताइवान में उपचार कराया और कहा कि वह वापसी करने के लिए बेताब हैं। उन्होंने हालांकि अप्रैल से अभ्यास नहीं किया और कई समय सीमाएं तय करने और उन्हें पूरा नहीं कर पाने के कारण अगले साल तोक्यो ओलंपिक में खेलने की उनकी उम्मीदें क्षीण पड़ गई थी। ओलंपिक में तीन बार के रजत पदक विजेता ली ने कहा कि वह अब विश्राम करके अपने परिवार के साथ समय बिताना पसंद करेंगे तथा यहां तक अपनी पत्नी को ‘हनीमून' पर ले जाएंगे क्योंकि 2012 में शादी के बाद वह लगातार इसे टालते रहे थे। 
 

.
.
.
.
.