Sports

बर्मिंघम : भारत की उम्मीद और ओलंपिक तथा विश्व चैंपियनशिप की रजत विजेता पीवी सिंधू को प्रतिष्ठित ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप के पहले ही दौर में बुधवार को करारी हार का सामना करना पड़ा।  पांचवीं वरीयता प्राप्त सिंधू को कोरिया की सुंग जी ह्यून ने एक घंटे 21 मिनट के कड़े संघर्ष में 16-21, 22-20, 18-21 से हारकर दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया। विश्व रैंकिंग में छठे नंबर की खिलाड़ी सिंधू का दसवीं रैंकिंग की ह्यून के खिलाफ अब 7-8 का कैरियर रिकॉर्ड हो गया है। कोरियायी खिलाड़ी ने सिंधू को पिछले साल एशिया चैंपियनशिप में भी हराया था।

ओलंपिक और विश्व चैंपियनशिप की रजत विजेता सिंधू ने पिछले साल टूर्नामेंट के सेमीफाइनल तक जगह बनाई थी। लेकिन इस बार उनकी चुनौती पहली ही राउंड में टूट गई। टूर्नामेंट के पुरुष वर्ग में विश्व के 26वें नंबर के खिलाड़ी भारत के बी साई प्रणीत ने हमवतन एचएस प्रणय को पहले ही दौर में हराकर बाहर कर दिया और दूसरे दौर में जगह बना ली। प्रणीत ने अपने से शीर्ष 19वीं रैंकिंग के प्रणय को लगातार गेमों में 21-19, 21-19 से हराकर 52 मिनट में ही उनका यहां सफर समाप्त कर दिया। दोनों हमवतन खिलाड़यों के बीच यह करियर की चौथी भिड़ंत थी जिसके साथ अब उनके बीच रिकार्ड 2-2 से बराबरी का हो गया है।

प्रणीत ने इससे पहले वर्ष 2009 में सैयद मोदी ग्रां प्री में हमवतन प्रणय को हराया था और लगभग 10 वर्ष बाद उन्हें प्रणय पर यह जीत मिली है। प्रणीत का दूसरे दौर में हांगकांग के एनजी का लोंग एनग्स से मुकाबला होगा जिनके खिलाफ भारतीय खिलाड़ी का 1-2 का रिकार्ड है। इससे पहले महिला युगल में जे मेघना और एस पूर्विशा राम की भारतीय जोड़ी को पहले ही दौर में हार का सामना करना पड़ा। भारतीय जोड़ी को रूस की एकातेरिना बोलोतोवा और एलिना दावेतोवा ने 57 मिनट में 18-21, 21-12, 21-12 से हारा दिया। 

.
.
.
.
.