Sports

 

मैनचेस्टर : दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने विश्व कप के अंतिम लीग मैच में ऑस्ट्रेलिया को हराने के बाद कहा कि इस टीम का विश्व कप में आत्मविश्वास ‘अतिरिक्त खिलाड़ी' की तरह है। डु प्लेसिस ने मौजूदा टूर्नामेंट में दक्षिण अफ्रीका की ओर से पहला शतक जड़ते हुए 100 रन की पारी खेली जिससे टीम ने छह विकेट पर 325 रन बनाकर यहां ओल्ड ट्रैफर्ड में आस्ट्रेलिया को 10 रन से हराया।

ऑस्ट्रेलिया की टीम हालांकि पहले ही सेमीफाइनल में जगह बना चुकी थी। आस्ट्रेलिया अब दूसरे सेमीफाइनल में एजबस्टन में गुरुवार को इंग्लैंड से भिड़ेगा जबकि भारत का सामना मंगलवार के न्यूजीलैंड से होगा। ऑस्ट्रेलिया ने रिकार्ड पांच बार विश्व कप जीता है और डु प्लेसिस ने कहा कि अतीत में सफलता उन्हें 14 जुलाई को लार्ड्स में खिताब जीतने का प्रबल दावेदार बनाती है।

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि ऑस्ट्रेलिया और भारत ने बार-बार साबित किया है। वे ऐसी टीमें हैं जो बड़े मैच जीतती है। विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया की सफलता की अनदेखी नहीं की जा सकती।' डु प्लेसिस ने कहा, ‘आस्ट्रेलियाई टीम विश्व कप में जिस आत्मविश्वास के साथ आती है वह टीम में एक अतिरिक्त खिलाड़ी होने की तरह है।' मौजूदा विश्व कप के विजेता के बारे में पूछने पर डु प्लेसिस ने कहा, ‘वे (ऑस्ट्रेलिया) संभवत: न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलना पसंद करते लेकिन मैं कहूंगा कि आस्ट्रेलिया और भारत में से एक।' 

.
.
.
.
.