Sports

ब्रिस्बेन : गाबा में चल रहे पहले एशेज़ टेस्ट के दूसरे दिन चोटिल बेन स्टोक्स का रात भर आकलन किया जाएगा। इंग्लैंड टीम के चिकित्सा कर्मचारी (मेडिकल टीम) उनके चोट की जांच करेगी। समझा जा रहा है कि स्टोक्स को घुटने में यह चोट ऑस्ट्रेलियाई पारी के 29वें ओवर में लगी जब वह सीमा रेखा की ओर जा रही गेंद का पीछा कर रहे थे। इसके बाद वह पूरे दिन संघर्ष करते नजर आए। उन्होंने पहले स्पेल में तीन ओवर डाले जिसमें नो-बॉल पर डेविड वॉर्नर का विकेट शामिल था और पूरे दिन में केवल 9 ओवर गेंदबाजी की।

इंग्लैंड के गेंदबाजी कोच जॉन लुईस ने कहा कि जाहिर है कि बेन (स्टोक्स) आज मैदान पर चोटिल हुए हैं और इसलिए उन्होंने अंतिम सेशन में तेज गति से गेंदबाजी नहीं की। हमारी मेडिकल टीम आज रात भर उनका आकलन करेगी और देखेगी कि वह कैसे हैं। उनके अलावा बाकी सब लोग ठीक हैं। मेहमान टीम के लिए तीन विकेट लेकर सबसे सफल गेंदबाज साबित हुए ऑली रॉबिंसन भी तीसरे सेशन में संघर्ष करते नजर आए। वह उपचार के लिए मैदान से बाहर गए थे और उन्होंने दूसरी नई गेंद से गेंदबाजी भी नहीं की। 

हालांकि लुईस ने कहा कि वह चोटिल नहीं है। दिन के अंत में आते आते कप्तान जो रूट के पास गेंदबाजी के विकल्पों की कमी थी। उनकी कठिनाईयां और बढ़ी जब ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों ने जैक लीच को निशाना बनाया और उनके खिलाफ लगभग नौ रन प्रति ओवर के दर से रन बनाए। लीच ने मार्नस लाबुशेन को आउट जरूर किया लेकिन वह रन गति पर अंकुश लगाने में असफल रहे। कोच लुईस का मानना है कि यह लीच के लिए अच्छा दिन नहीं था और वह इसे भुलाना चाहेंगे। उन्होंने कहा कि मैं जानता हूं कि जैक हार मानने वालों में से नहीं हैं। हम अभी हारे नहीं हैं। उम्मीद हैं कि जैक कल मज़बूत वापसी करेंगे।  

.
.
.
.
.