Sports

जालन्धर : कॉमनवैल्थ गेम्स में भारत को वेटलिफ्टिंग में गोल्ड मेडल दिलाने वाली वेटलिफ्टर पूनम यादव और उनके कुछ साथियों पर हमला हुआ है। पूनम तब बनारस के गांव मुंगवार में थीं। पूनम यहां अपनी बुआ से मिलने आई थीं तभी उनपर गांव के प्रधान और उसके कुछ समर्थकों से बहस हो गई। आरोप है कि बहस इतनी बढ़ गई कि गांव प्रधान के साथियों ने पूनम और उसके साथियों से मारपीट शुरू कर दी। पूनम ने किसी तरह अपने रिश्तेदारों और साथियों के साथ भागकर अपनी जान बचाई। 
PunjabKesari
बताया जा रहा है कि गांव प्रधान और उनके समर्थकों ने वाहनों में तोडफ़ोड़ भी की है। पूरा विवाद गांव की किसी जमीन को लेकर हुआ है। पूनम पर हमले का पता चलते ही पुलिस भी सतर्क हो गई थी। शनिवार को दोनों पार्टियों को थाने बुलाया गया था। जहां पूनम पिता और अन्य रिश्तेदारों के साथ डटी हुई थी। उधर, कुछ पुलिसकर्मियों का कहना है कि हमला उनके सामने हुआ, उन्होंने किसी तरह पूनम और उसके साथी को बचाया।
PunjabKesari

.
.
.
.
.