Sports

चियांगमई ,थाईलैंड  (निकलेश जैन ) में एशियन चेस फेडरेशन और थाई लैंड चेस फेडरेसन के सयुंक्त तत्वाधान में  सम्पन्न हुई एशियन यूथ शतरंज चैंपियनशिप में भारतीय शतरंज टीम नें बेहद शानदार प्रदर्शन करते हुए कुल 35 स्वर्ण पदको के साथ पहला स्थान हासिल कर लिया । भारत का दबदबा इसी बात से समझा जा सकता है की भारत नें कुल 68 पदक झटके इसमें से 39 स्वर्ण ,19 रजत और कुल 14 कांस्य पदक के साथ कुल 68 पदक हासिल किए । वियतनाम 17 स्वर्ण ,21 रजत और 14 कांस्य पदको को मिलाकर कुल 52 पदको के साथ दूसरे और चीन 8 स्वर्ण ,11 रजत और 13 कांस्य पदक के साथ कुल 32 पदको के साथ तीसरे स्थान पर रहा । भारत नें टीम और व्यक्तिगत दोनों श्रेणी में पहला स्थान हासिल किया और यह सारे पदक खेल के क्लासिकल ,ब्लिट्ज़ और रैपिड फॉर्मेट में हासिल किए । भारत की ओर से डी गुकेश नें तीनों वर्गो में स्वर्ण पदक ,वार्षिनी साहिती नें दो स्वर्ण और एक रजत सबसे बड़े प्रदर्शन रहे । सर्वाधिक पदको के साथ भारत नें एशियन चैम्पियन रहने का अपना खिताब बचाए रखा ।