Sports

नई दिल्ली : कोलकाता नाइटराइडर्स के कैरेबियाई ऑलराउंडर आंद्रे रसेल ने कहा है कि बड़े शॉट्स लगाने के मामलें में उनके साथी खिलाड़ी क्रिस गेल ने उनकी जिंदगी बदल दी है। रसेल ने कहा- मैंने गेल से बहुत कुछ सीखा है और बड़े शॉट्स लगाने के मामलें में उन्होंने मेरी जिन्दगी बदल दी है। मैं पहले हल्के बल्ले से बल्लेबाजी करता था लेकिन इससे गेंद ज्यादा दूर तक नहीं जाती है। विश्व कप के दौरान गेल ने मुझे कहा कि रसेल तुम इससे बेहतर प्रदर्शन कर सकते हो, तुम शक्तिशाली हो और बड़े एवं भारी बल्ले से खेल सकते हो।

Sports

टी-ट्वंटी विश्व कप 2016 को याद करते हुए हरफनमौला बल्लेबाज ने कहा- 2016 टी-ट्वंटी विश्व कप ने मेरी जिन्दगी बदल दी जहां मैंने अपनी टीम के लिए 48 रन बनाए थे। मेरे बल्ले अब बड़े है और उनके पीछे काफी सारे पहलू हैं। मैं अपने बल्लों के साथ खूब सारा अभ्यास करता हूं। रसेल ने आईपीएल में अभी तक नौ मुकाबले खेले हैं जिसमें उन्होंने 377 रन बनाए है। उन्होंने बताया कि अमेरिका में नैशनल फुटबॉल लीग (एनएफएल) को देखने से वह मानसिक तौर पर और मजबूत हुए हैं। उन्होंने बताया- मैंने एनएफएल खिलाडिय़ों के साथ अभ्यास किया था। कुछ वर्ष पहले मैं डलहास गया था जहां मैंने देखा की एथलीट अपने खेलों में कितनी कड़ी मेहनत करते हैं। यह खिलाड़ी बेहद दृढ़ता से अभ्यास करते हैं।

Andre Russell show his muscle power, hitting average 4.14 six in every match

ऑलराउंडर ने फिटनेस को लेकर कहा- मुझे अपना बड़ा या भारी शरीर करने की जरुरत नहीं है। अगर मैं और भारी भरकम हो जाऊंगा तो उससे मेरी गेंदबाजी धीमी हो जाएगी तथा बल्ले को घुमाते हुए हाथ की गति भी कम हो जाएगी। हमें अपने अभ्यास के बारे में समझदारी से सोचना चाहिए। मैं बहुत कड़ा अभ्यास करता हूं और जिम में भी काफी मेहनत करता हूं क्योंकि आप जितने शक्तिशाली होंगें उतने ही आसानी से आप गेंद को मैदान के बाहर पहुंचा पाएंगे।

Sports

ईडन गाडर्न में खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग के कोलकता नाइटराइडर्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू मुकाबले में जब रसेल बल्लेबाजी करने आए तब कोलकता को 49 गेंदों पर 135 रन चाहिए थे। रसेल ने पिछले मुकाबलों की तरह इस मुकाबले में भी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 9 छक्के और 2 चौकों की मदद से 25 गेंदों पर 65 रन ठोक डाले थे, जिसके बाद कोलकता को आखिरी ओवर में 25 रन चाहिए थे। लेकिन टीम जरूरी रन बनाने में कामयाब नहीं हो सकी 10 रनों से मैच हार गई।

.
.
.
.
.