Sports

राजकोटः भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्या रहाणे ने विंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज को टीम इंडिया के युवा खिलाड़ियों के लिए एक शानदार मौका बताया है।  रहाणे ने मंगलवार को यहां संवाददाताओं के साथ बातचीत में कहा, ''टीम में पृथ्वी शॉ, मयंक अग्रवाल और मोहम्मद सिराज जैसे खिलाड़ियों को मौका दिया गया है जिन्होंने घरेलू स्तर पर लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है और अब उनके पास भारतीय टीम के साथ खुद को साबित करने का मौका है।'' भारत और विंडीज के बीच पहला टेस्ट गुरूवार से राजकोट में होना है।

रहाणे ने कहा, ''न केवल पृथ्वी, मयंक और सिराज के लिए बल्कि टीम के सभी खिलाड़ियों के लिए यह सीरीज एक मौका है। मेरा मानना है कि हर टेस्ट और सीरीज खिलाड़ियों के नजरिए से महत्वपूर्ण होती है और एक टीम के रूप में हम सभी को अच्छा प्रदर्शन करना होता है।'' टीम संयोजन के बारे में पूछे जाने पर उपकप्तान ने कहा, ''संयोजन का अभी पता नहीं है, टेस्ट शुरू होने से पहले अभी दो अभ्यास सत्र और हैं जिसके बाद ही टीम संयोजन का पता लग सकेगा। हम पर किसी तरह का कोई दबाव नहीं है। टीम में नए खिलाड़ी आ रहे हैं। उन्हें मैदान पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर खुद को साबित करना है क्योंकि भविष्य के लिये टेस्ट टीम तैयार की जा रही है।''

रहाणे ने 18 वर्षीय युवा ओपनर मुंबई के पृथ्वी शॉ की तारीफ करते हुए कहा, ''इस लड़के ने घरेलू सत्र, इंडिया ए और मुंबई के लिए लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है। मुझे खुशी है कि उसे मौका मिला है और मैं उसे अपनी शुभकामनाएं देता हूं।'' विंडीज के खिलाफ रणनीति के बारे में पूछे जाने पर रहाणे ने कहा, ''राजकोट में गर्मी है और हमें परिस्थितियों से खुद को जल्द अभ्यस्त करना होगा। इंग्लैंड का मौसम और विकेट अलग था और यहां का अलग है। हमें पिछली सीरीज को पीछे छोड़कर नए उत्साह के साथ प्रदर्शन करना होगा।'' रहाणे ने कहा, ''हर सीरीज नई होती है और आपको नई शुरूआत करनी होती है। मैं खुद भी अपनी टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करने को लेकर उत्सुक हूं। हमें मैच में शुरूआत से विंडीज पर दबाव बनाना होगा।''

.
.
.
.
.