Sports

नई दिल्ली : खराब प्रदर्शन से जूझ रहे युवराज सिंह के लिए लगता है कि समय अच्छा नहीं चल रहा है। पहले आईपीएल ऑक्शन में वह बेस प्राइस मात्र दो करोड़ रुपए में बिक गए। वहीं, उसके बाद पंजाब की ओर से खेले गए दोनों मैचों में उनका प्रदर्शन औसत ही रहा। शुरुआत औसत रहने के कारण अब कई क्रिकेट एक्सपर्ट युवराज के भविष्य को लेकर बातें करने लगे हैं। इसी क्रम में भारत के पूर्व तेज गेंदबाज अजीत अगरकर ने भी युवराज पर तीखी टिप्पणी की है। 

अगरकर ने एक क्रिकेट चैट शो दौरान कहा कि युवराज जिस तरह प्रदर्शन कर रहे हैं उसे देखकर मैं बेहद निराश हूं। वह अभी तक अपनी लय में नजर नहीं आ रहे। यहां तक कि तेज गेंदबाज उमेश यादव को खेलने में उन्होंने जो असमर्थता दिखाई उससे यह कहना ठीक होगा कि युवराज को अब अपने बचे करियर के बारे में सोचना होगा। उन्होंने कहा कि युवराज को लगातार ऐसा खेलता देखने के बाद अब समय आ गया है कि उनपर जल्द कोई न कोई बड़ा फैसला लिया जाए। हालांकि फिलहाल उनकी टीम पंजाब उनपर भरोसा बनाए हुए हैं। लेकिन यह भरोसा कितनी देर तक बना रहेगा, इस बाबत कहा नहीं जा सकता।

युवराज के सिर पर होती है महत्वपूर्ण जिम्मेदारी
PunjabKesari
अगरकर ने कहा कि किसी भी टीम का मिडल ऑर्डर उसकी टीम का सबसे महत्वपूर्ण पक्ष होता है। अगर ओपनर्स ने अच्छी शुरुआत दी है तो उसे अंजाम तक पहुंचाने का जिम्मा मिडल ऑर्डर पर होता है। अगर ओपनर्स अच्छी शुरुआत नहीं भी देते तो उसकी भरपाई की जिम्मेदारी भी मिडल ऑर्डर पर ही होती है। पंजाब के लिए मिडल ऑर्डर में युवराज की भूमिका अहम है। पंजाब के ओपनर्स शुरुआत तो अच्छी कर ही रहे हैं लेकिन मिडल ऑर्डर उसे बड़े स्कोर तक ले जाने में उतना सफल नहीं हो रहा जितना होना चाहिए।

.
.
.
.
.