Sports

स्पोटर्स डेस्क: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही टेस्ट सीरीज में ऑस्ट्रेलिया की पर्थ पिच को ICC की ओर से मिली औसत रेटिंग के चलते विवाद खड़ा हुआ था। ऑस्ट्रेलिया का मौजूदा और पूर्व क्रिकेटर्स ने ICC की ओर से उनकी पिचों को औसत रेटिंग देने पर नाराजगी जताई थी। ये विवाद अभी पूरी तरह ठंडा हुआ ही नहीं था कि अब दक्षिण अफ्रीका और पाकिस्तान के बीच साउथ अफ्रीका में खेली जा रही टेस्ट सीरीज में पिचों को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं और ये सवाल किसी और ने नहीं बल्कि दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर और पूर्व कोच मिकी ऑर्थर ने उठाए हैं।

टेस्ट क्रिकेट की स्तर की नहीं है पहले 2 टेस्ट की विकेट- मिकी ऑर्थर

Mickey Arthur Pakistan Cricket Coach

दक्षिण अफ्रीका और पाकिस्तान के बीच चल रही टेस्ट सीरीज के दौरान केपटाउन में पाकिस्तान टीम के कोच मिकी ऑर्थर ने दक्षिण अफ्रीका की पिचों को लेकर बड़ा सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि सीरीज के पहले दो टेस्ट के लिए जो विकेट तैयार किए गए, वो टेस्ट क्रिकेट के स्तर हैं ही नहीं। पहला टेस्ट मैच हारने के बाद दूसरे टेस्ट में भी पीछे चल रही पाकिस्तान टीम के कोच मिकी ऑर्थर ने कहा कि 10 साल पहले जब मैं साउथ अफ्रीका में कोचिंग देता था, तब से लेकर अब तक विकेट्स का स्तर काफी गिर गया है।

दक्षिण अफ्रीका में विकेट्स का स्तर गिरने से निराश हूं- ऑर्थर

Mickey Arthur Pakistan Cricket Coach

मिकी ऑर्थर ने कहा कि साल 2010 के बाद क्रिकेट के लिहाज से मैं पहली बार साउथ अफ्रीका आया हूं और सेंचुरियन और न्यूलैंड्स के विकेट्स का स्तर टेस्ट क्रिकेट के हिसाब से गिरने की कारण मैं काफी निराश हूं। मिकी आर्थर ने विकेट पर मौजूद दरारों के चलते अनियमित बाउंस की शिकायत की. उनका कहना था, ‘ अगर ये मैच के चौथे या 5वें दिन होता है तो समझ में आता है, लेकिन अगर ये मैच के पहले 2 दिन में पहली ही पारी में हो रहा है तो ये बिल्कुल भी ठीक नहीं है’।

मामला संज्ञान में आया तो ICC भी दे सकता है अपनी रेटिंग

ICC

बता दें कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट सीरीज के दौरान ICC ने पर्थ पिच को औसत रेटिंग दी थी। जिस पर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की किरकरी हुई थी और उन्होंने ICC की ओर से औसत रेटिंग देने पर नाराजगी जताई थी। लिहाजा अब मिकी ऑर्थर के दक्षिण अफ्रीका की पिचों पर सवाल उठाने के बाद आगामी दिनों में ICC भी इस पर संज्ञान ले सकती है और हो सकता है कि इन पिचों के लिए भी ICC अपनी रेटिंग दे।

 

.
.
.
.
.