Sports

मुंबईः एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली निशानेबाज राही सरनोबत की निगाहें अब 2020 तोक्यो ओलंपिक में पदक जीतकर इतिहास रचने पर लगी हैं। एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय निशानेबाज 27 वर्षीय सरनोबत तोक्यो में पोडियम पर पहुंचने के लिये प्रतिबद्ध हैं।           

ओलंपिक पदक हासिल करना है लक्ष्य
PunjabKesari
जकार्ता में 25 मीटर एयर पिस्टल में स्वर्ण जीतने वाली सरनोबत ने कहा, ‘‘अब केवल ओलंपिक पदक हासिल करना ही बाकी रह गया है। इसलिए अगला लक्ष्य ओलंपिक (2020) होगा। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैंने इससे पहले भी ओलंपिक में भाग लिया है लेकिन वह बीती बात है। अब (तोक्यो में) मुझे पोडियम पर पहुंचना चाहिए।’’ अब तक किसी भी भारतीय महिला निशानेबाज ने ओलंपिक में पदक नहीं जीता है। 

सरनोबत ने कहा कि ओलंपिक में पदक जीतने के लिये उन्हें अब मानसिक और शारीरिक ट्रेनिंग पर अधिक ध्यान देना होगा। उन्होंने कहा, ‘‘कई चीजें हैं जिनमें मुझे सुधार करना होगा। ओलंपिक आसान नहीं है। वहां का दबाव पूरी तरह से भिन्न होता है। आपको मानसिक और शारीरिक तौर पर मजबूत होने की जरूरत है। तकनीकी तौर पर भारतीय निशानेबाज अभी बहुत अच्छी स्थिति में हैं। इसलिए हमें अब मानसिक और शारीरिक प्रशिक्षण पर अधिक ध्यान केंद्रित करना होगा।’’      


 

.
.
.
.
.