Sports

नई दिल्लीः सलमान खान के भाई अरबाज खान को आईपीएल पर सट्टा लगाने के मामले में ठाणे क्राइम ब्रांच ने पूछताछ के लिए बुलाया था। पूछताछ करने पर उन्होंने कई चौंकाने वाले खुलासे कर दिए हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अरबाज ने मान लिया है कि वह पिछले 6 साल से आईपीएल मैचों पर सट्टा लगा रहे हैं। उन्होंने 3 करोड़ से ज्यादा रुपए सट्टेबाजी में गंवा दिए हैं।
 


अरबाज ने साथ यह भी कबूला कि पैसे नहीं चूकाने पर बुकी सोनू जालान उन्हें धमकिया देता था। पुलिस के पूछताछ करने पर यह भी पता लगा कि अरबाज सट्टे के आदि हो चुके थे और उनकी इस बात को पूरा परिवार जानता था। क्राइम ब्रांच में पेशी से पहले अरबाज ने सलमान खान से मुलाकात कर उनसे बातचीत की थी। रिपोर्ट के मुताबिक सलमान की लीगल टीम इस केस में उनकी मदद करेगी। पुलिस को शक था कि सोनू जालान के रैकेट के जरिए अरबाज खान ने आईपीएल मैचों में मोटी रकम का सट्टा लगाया है। 

PunjabKesari

आईपीएल 2018 के दौरान पुलिस ने डोबिंवली में सट्टेबाजी रैकिट का भंडाफोड़ करते हुए 4 सट्टेबाजों को गिरफ्तार किया। शुरुआती जांच में यह संकेत मिले हैं कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सट्टेबाजी रैकिट चल रहा था। इतना ही नहीं, डॉन दाऊद इब्राहिम की डी कंपनी से भी सट्टेबाजी रैकिट के लिंक मिलते दिख रहे हैं।

PunjabKesari

पूछताछ में रैकेट के पीछे सोनू जालान का नाम सामने आया था। इसके बाद सोनू जालान को गिरफ्तार कर जब पूछताछ की गई तो उसने बताया कि बॉलीवुड के कई सेलिब्रिटी बेटिंग में अलग-अलग नामों से पैसा लगाते हैं। इससे पहले जालान को आईपीएल मैच में सट्टेबाजी के लिए मुंबई पुलिस ने 2012 में गिरफ्तार किया था। तब पूछताछ के दौरान उन्होंने मुंबई क्राइम ब्रांच के अधिकारियों से कहा कि उन्होंने मैच को फिक्स करने के लिए शीर्ष श्रीलंकाई खिलाड़ी को 10 करोड़ रुपये का भुगतान किया था।
PunjabKesari

 

.
.
.
.
.