Sports

नई दिल्लीः कप्तानी से हटाए गए आॅस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के टिम पेन को इस बात का बिल्कुल भी अफसोस नहीं है कि उनसे बड़ी जिम्मेदारी छिनी गई। पेन को पहले से ही इसका अनुमान था कि वह कप्तानी में लंबी रेस के घोड़े नहीं। उन्होंने कहा कि मैं अभी 2019 विश्व कप की कप्तानी करने के लायक नहीं था।

उन्होंने कहा, ”मुझे हमेशा से ही इस बात का पता था कि मैं वो नहीं जो विश्व कप में टीम का नेतृत्व करेगा। वो दूसरी दिशा में जरूर देखेंगे। हां, अगर मैंने सीरीज के दौरान तीन शतक बना दिया होता तो शायद बात अलग हो सकती थी। मुझे पता था कि प्लान यही है और वह उसी तरफ जाएंगे।” पेन ने कहा, ”प्लान तो टेस्ट क्रिकेट पर ध्यान देने का था लेकिन जो उस वक्त हुआ उसके बाद अचानक से टीम के पास ना तो कप्तान था और ना ही उप कप्तान। ऐसे में तभी टीम को स्थिरता देने की जरूरत थी।”

इस साल की शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका के साथ केप टाउन टेस्ट में ‘बॉल टैंपरिंग‘ का दोषी पाए जाने के बाद स्टीवन स्मिथ, डेविड वार्नर और कैमरून बेनक्राफ्ट पर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने प्रतिबंध लगा दिया था। बाद में स्मिथ की जगह टिम पेन को टीम की कमान साैंपी गई।

पेन की कप्तानी में टीम को मिली हार

Australia Cricket Team, Captain, Tim Paine, Aaron Finch, ODI, Cricket News in hindi

बतौर कप्तान टिम पेन को इंग्लैंड में पहली वनडे सीरीज में 5-0 से हार मिली। यूएई के दौरे पर भी टीम को टेस्ट में पाकिस्तान से 1-0 से हार का सामना करना पड़ा। टी20 सीरीज में भी ऑस्ट्रेलिया की टीम 3-0 से हार गई। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के लिए टिम पेन की जगह एरोन फिंच को वनडे टीम का कप्तान बनाया गया। पेन वनडे टीम में अपनी जगह बचाने में भी कामयाब नहीं हो पाए।


 

.
.
.
.
.