Sports

नागपुर : फस्र्ट क्लास के दिग्गज प्लेयरों में से एक वसीम जाफर ने 40 साल की उम्र में बढ़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। शेष भारत के लिए खेलते जाफर ने ईरानी कप के तहत रणजी चैंपियन विदर्भ के खिलाफ खेले गए मैच दौरान नाबाद 113 रन बनाए हैं। जाफर को कप्तान फैज फजल का भी साथ मिला। फजल ने 89 रन की बेहतरीन पारी खेलकर पहले दिन अपनी टीम का स्कोर दो विकेट पर 289 रन पर ला खड़ा किया। 

घरेलू क्रिकेट के लीजेंड खिलाड़ी जाफर का यह प्रथम श्रेणी में 53वां शतक था। इसके साथ ही वह प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 18000 रन पूरे करने के करीब पहुंच गए हैं। जाफर के 242 मैचों में 17937 रन हो गए हैं। उन्होंने अपनी नाबाद पारी में 166 गेंदों का सामना किया है और 16 चौके तथा एक छक्का लगाया है।

वहीं, कप्तान फजल ने भी 190 गेंदों पर 89 रन बनाकर छह चौके और एक छक्का लगाया। 32 वर्षीय फजल का यह 33वां अर्धशतक था और उनके अब प्रथम श्रेणी में 6895 रन हो गए हैं। उनका दुर्भाग्य रहा कि वह मात्र 11 रन से अपना 17वां शतक बनाने से चूक गए। 

जाफर और फजल ने दूसरे विकेट के लिए 117 रन की साझेदारी की। इससे पहले फजल ने संजय रामास्वामी के साथ पहले विकेट के लिए 101 रन की साझेदारी की। 22 वर्षीय रामास्वामी ने 111 गेंदों में छह चौकों और एक छक्के की मदद से 53 रन बनाए जो उनका सातवां प्रथम श्रेणी अर्धशतक था। 

शेष भारत के गेंदबाजों को दिनभर संघर्ष करना पड़ा। भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने फजल को आउट किया जबकि एक अन्य ऑफ स्पिनर जयंत यादव ने संजय का विकेट लिया। विदर्भ का दूसरा विकेट 218 के स्कोर पर गिरा।

जाफर ने इसके बाद गणेश सतीश के साथ तीसरे विकेट के लिए अविजित साझेदारी में 71 रन जोड़ डाले। सतीश ने 74 गेंदों पर नाबाद 29 रन में चार चौके लगाये। अश्विन को 25 ओवर में 66 रन पर एक विकेट और जयंत को 18 ओवर में 73 रन पर एक विकेट मिला।

.
.
.
.
.