Cricket

स्पोर्ट्स डेस्क (जसमीत) : क्रिकेट के महानतम खिलाड़ियों में से एक सचिन तेंदुलकर ने मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में आज ही के दिन ठीक 5 साल पहले अपने क्रिकेट करियर पर विराम लगा दिया था। 16 नवंबर, 2013 को वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला गया टेस्ट न सिर्फ तेंदुलकर की जिंदगी का 200वां टेस्ट था, बल्कि इसके साथ भारतीय टीम का एक अध्याय भी समाप्त हो गया, जिसे सिर्फ और सिर्फ सचिन ने संवारा। तेंदुलकर की रिटायरमेंट को आज 5 साल हो गए हैं। ऐसे में, आइए देखते हैं कि भारतीय क्रिकेट टीम के लिए जो विरवा उन्होंने बोया था, वह किस रूप में विकसित हुआ।

सचिन की रिटायरमेंट के बाद टीम इंडिया का प्रदर्शन 

टेस्ट : 49 प्रतिशत जीत हासिल हुई भारतीय टीम को

5 year after sachin tendulkar see where indian cricket team stand

सचिन की रिटायरमेंट के बाद भारतीय टीम ने अब तक 18 टेस्ट सीरीज खेली है। इनमें 11 में उसे जीत, एक में ड्रॉ तो बाकियों में उसे शिकस्त झेलनी पड़ी है। भारत ने इस दौरान 55 टेस्ट खेले हैं। इनमें 27 में उसे जीत मिली, जबकि 11 में हार का सामना करना पड़ा। बाकी टेस्ट ड्रॉ रहे हैं। भारत ने इस दौरान लगातार 9 टेस्ट सीरीज भी जीती। इनमें साउथ अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड को भी हराया गया था। 

वनडे : 60 प्रतिशत मैच जीते भारत ने

5 year after sachin tendulkar see where indian cricket team stand

इसी तरह, वनडे में भारत ने 25 सीरीज खेली जिनमें 16 सीरीज में उन्हें जीत का स्वाद चखने को मिला, जबकि 9 सीरीज में उन्हें हार झेलनी पड़ी। इस दौरान भारत ने तीन बड़े टूर्नामेंट भी खेले। देखें परिणाम -
2015 एशिया कप में भारत ने 4 मैच खेले। दो जीते, दो हारे। कप नहीं जीत पाए।
2015 में ही ऑस्ट्रेलिया, इंगलैंड के खिलाफ ट्राई सीरीज में 4 मैचों में तीन हारे एक ड्रॉ रहा। कप नहीं जीत पाए।
2015 में ही विश्व कप हुआ। भारत ने सेमीफाइनल को मिलाकर 8 मैच खेले। इनमें सात में जीत हासिल हुई, जबकि एक मैच में हार का सामना करना पड़ा।
2017 में हुई आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान भारत ने 5 मैच खेले, तीन में उसे जीत तो दो में हार का सामना करना पड़ा। ट्रॉफी पाकिस्तान के नाम रही थी। 
2018 में हुए एशिया कप के दौरान भारत ने 6 मैच खेलकर पांच में जीत हासिल की। एक मैच ड्रॉ रहा। भारत ने कप पर कब्जा जमाया।

 इन 5 सालों के दौरान भारत ने कुल 115 मैच खेले। इसमें 70 मैचों में जीत, 35 में हार तो 10 मैच किसी न किसी वजह (रद्द, ड्रॉ, टाई) रहे हैं।

टी20 : 68 फीसदी सफलता मिली 

5 year after sachin tendulkar see where indian cricket team stand

इस फॉर्मेट में तो भारत के हाथ सबसे ज्यादा सफलता लगी है। इस दौरान 21 सीरीज में 13 में उसे जीत हासिल हुई है। अच्छी बात यह है कि भारत पिछली नौ सीरीज से अजेय बना हुआ है। इस दौरान भारत ने कुल 63 मैच खेले। इनमें 43 मैचों में जीत हासिल हुई, जबकि 17 मैच में हार मिली। 3 मैच रद्द-ड्रॉ-टाई की कैटेगरी में रहे।

भारतीय टीम ने इस दौरान 4 बड़े टूर्नामेंट खेले
2014 में हुए टी20 वर्ल्ड कप में भारत ने 6 मैच खेले। पांच में जीत मिली तो एक यानी फाइनल में श्रीलंका से हार का सामना करना पड़ा।
2016 एशिया कप में भारत ने 5 मैच खेले। सभी में जीत हासिल कर एशिया कप पर भी कब्जा जमाया।
2016 में ही टी20 वर्ल्ड कप में भारत ने 5 मैच खेले, 3 में जीत मिली, जबकि सेमीफाइनल समेत 2 में हार झेलनी पड़ी।
2018 में हुई निदहास ट्रॉफी के दौरान भारत ने 5 मैच खेले, फाइनल समेत 4 में जीत मिली। एक में हार का सामना करना पड़ा।

.
.
.
.
.