International News

जकार्ताः इंडोनेशिया के लोम्बोक द्वीप पर भूकंप से नष्ट हुए भवनों के मलबों से और शव निकाले जाने के साथ ही इस आपदा में मरने वालों की संख्या 400 को पार कर गयी है।  पांच अगस्त को लोम्बोक में 6.9 तीव्रता का भूकंप आया था जिससे हजारों मकान, मस्जिदें, व्यापारिक प्रतिष्ठान आदि ध्वस्त हो गए थे। उससे एक हफ्ते पहले भी भूकंप आया था जिसने 17 जिंदगियां लील कर ली थीं।      

राष्ट्रीय आपदा एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पूर्वो नुग्रोहो ने कहा, ‘‘तलाश एवं बचाव टीमें ध्वस्त भवनों और भूस्खलन के मलबों में दबे लोगों को अब भी निकाल रही हैं।’’ उन्होंने बताया कि इस भूकंप में मरने वालों की संख्या अब 436 हो गयी है, 1300 से ज्यादा घायल हुए हैं तथा करीब 3,53,000 विस्थापित हो गये हैं।   भूकंप ने सबसे अधिक असर लोम्बोक के उत्तरी हिस्से पर डाला है जहां 374 लोगों ने अपनी जान गंवाई एवं 1,37,000 लोग बेघर हो गये। एक नवीनतम आंकड़े में यह जानकारी दी गयी है।

प्रवक्ता के अनुसार विस्थापित लोग टेंटों में रात गुजार रहे हैं। घायलों के लिए अस्थायी चिकित्सा सुविधाएं स्थापित की गयी हैं। तीन हेलीकॉप्टर अलग थलग पड़ गये समुदायों के लिए जरुरी चीजों की आपूॢत कर रहे हैं। एक अनुमान के अनुसार इस भूकंप से 34.2 करोड़ डॉलर की संपत्ति का नुकसान हुआ है। नुग्रोहो ने कहा कि यह नुकसान बहुत बड़ा है। उन्होंने कहा कि मृतकों की संख्या में इजाफा हो सकता है।’’