Sports

नई दिल्ली:  भारत के डेविस कप कोच जीशान अली को कनाडा के खिलाफ आगामी मुकाबले में उच्च स्तर की टेनिस की उम्मीद है क्योंकि इंडोर में मुकाबले होने के कारण धूप और हवा जैसे कारक अपना प्रभाव नहीं डालेंगे। जीशान ने कहा कि भारतीय खिलाडिय़ों से इस विश्व ग्रुप प्लेआफ मुकाबले में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद की जा रही है जो कि 15 सितंबर से एडमंटन में शुरू होगा।   

जीशान ने एडमंटन से कहा कि हमारे खिलाड़ी विशेषकर युकी भांबरी को इंडोर में खेलना पसंद है। जब हम पिछली बार न्यूजीलैंड के खिलाफ इंडोर में खेले थे तो उसने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया था। मुझे इसमें अपने लिये कोई नुकसान नजर नहीं आता लेकिन इससे हमें उन पर कोई खास फायदा भी नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा कि इंडोर कोर्ट में खेलने पर परिस्थितियां शानदार होती हैं क्योंकि बाहरी तत्वों जैसे हवा और धूप का कोई असर नहीं होता है। इससे टेनिस का स्तर स्वत: ही 20 प्रतिशत तक बढ़ जाता है।

जीशान और पूर्व कप्तान एस पी मिश्रा दोनों का मानना है कि भारत के पास पिछले 3 वर्षों की तुलना में विश्व ग्रुप में जगह बनाने का बहुत अच्छा मौका है। भारत पिछले 3 वर्षों में र्सिबया, चेक गणराज्य और स्पेन की मजबूत टीमों से हार गया था।  ये तीनों देश मजबूत टीमों के साथ भारत आये थे लेकिन कनाडा के खिलाफ भारत के सामने सबसे बड़ी चुनौती विश्व में 51वें नंबर का डेनिस शापोवालोव और युगल विशेषज्ञ डेनियल नेस्टर है। विश्व में 11वें नंबर के मिलोस राओनिच कलाई की चोट के कारण इस मुकाबले में नहीं खेल पाएंगे। इस चोट के कारण वह यूएस ओपन से भी बाहर हो गये थे।   

जीशान ने कहा कि राओनिच के चोटिल होने के कारण हमें ब्रेडन इस्नर को छोड़कर इस टीम की उम्मीद थी। डेनिस शापोवालोव बेहतरीन फार्म में हैं। यह आसान मुकाबला नहीं होगा लेकिन पिछले चार वर्षों में यह हमारे पास सर्वश्रेष्ठ मौका है। सोमदेव देववर्मन की अगुवाई में खिलाडिय़ों की बगावत के बाद अपना पद छोडऩे वाले मिश्रा को हैरानी है कि उनके हटने के बाद टीम एक बार भी प्लेआफ से आगे नहीं बढ़ पायी है।   उन्होंने कहा कि मैं दो बार (2010 में रूस और 2011 में र्सिबया के खिलाफ) विश्व ग्रुप में ले गया था लेकिन तब भी कहा गया कि मैं अपेक्षित प्रदर्शन नहीं करवा पाया। अब समय आ गया है कि कोई टीम को विश्व ग्रुप तक ले जाए। 

मिश्रा ने कहा कि हमारे पास पिछले वर्षों की तुलना में सर्वश्रेष्ठ न सही लेकिन यह अच्छा मौका है। कनाडा के खिलाड़ी ऊंची रैंकिंग के हैं लेकिन हमारी तैयारियां अच्छी हैं। युकी और रामकुमार अभी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और रोहन इससे पहले डेनियल नेस्टर को हरा चुका है। साकेत अच्छी र्सिवस कर रहा है और मुझे पूरा विश्वास है कि यह करीबी मुकाबला होगा।