Sports

नई दिल्ली: कुश्ती की विश्व संस्था यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग (यूडब्ल्यूडब्ल्यू) ने ओलिंपिक में मौजूदा पुरुष और महिला फ्री स्टाइल तथा ग्रीको रोमन शैली के ओलंपिक वजन वर्गों के प्रारूप में संशोधन करने का फैसला किया है जिससे कुश्ती को 2020 के टोक्यो ओलंपिक से पहले महत्वपूर्ण बदलावों से गुजरना होगा।  

यूडब्ल्यूडब्ल्यू ब्यूरो के सदस्य और तकनीकी आयोग के प्रतिनिधि राजधानी में चल रही सीनियर एशियाई कुश्ती चैम्पियनशिप को देखने के लिए दिल्ली आये हुए हैं। वे इस कदम को ओलंपिक कार्यक्रम के अनुरूप बनाने और खेल के साथ प्रयोग करने की आवश्यकता पर विचार कर रहे हैं।  

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) द्वारा बदलाव की सहमति दिए जाने पर विश्व के सभी देशों के पहलवानों को अपने मूल वजन में परिवर्तन कर नये वजन वर्ग को अपनाना होगा। यदि आईओसी द्वारा इसे मंजूरी दे दी जाती है, तो 2020 टोक्यो ओलंपिक में पहलवानों को नए रूप में प्रतिस्पर्धा करनी होगी। फ्रांस के पेरिस में 21 से 26 अगस्त 2017 के बीच आयोजित सीनियर विश्व कुश्ती चैंपियनशिप के दौरान यूडब्ल्यूडब्ल्यू इस संबन्ध में आईओसी के साथ मौजूदा वजन श्रेणियों और ग्रीको रोमन नियमों के बदलाव पर आए सुझावों को संशोधित करने के विषय पर चर्चा करेगा।