Sports

कांति मांसिस्क ,रूस । ( निकलेश जैन ) विश्व टीम शतरंज चैंपियनशिप में छठा राउंड भारत  पुरुष टीम के लिए मेडल की और एक मजबूत कदम साबित हो सकता था और भारतीय टीम अपने इसके बेहद करीब भी पहुँच गयी थी पर मैच का परिणाम ड्रॉ रहा । विदित गुजराती नें अपने पहले बोर्ड से भारत को अंक देने का सिलसिला जारी रखा हालांकि आज जीत की उम्मीद के बीच उन्होने सोलक ड्रागोन से ड्रॉ खेला । दूसरे बोर्ड पर अधिबन जिनहोने पिछले तीन मैच में भारत की जीत की भूमिका बांधी थी उन्हे मुस्तफा इलमज के हाथो हार का सामना करना पड़ा उन्होने शुरुआत से ही आक्रामक खेल दिखाने की कोशिश की पर मुस्तफा नें अपने शानदार बचाव से अधिबन की रानी के तरफ के हिस्से की कमजोरियों पर सही समय पर आक्रमण किया फलस्वरूप अधिबन को एक प्यादा कुर्बान करना पड़ा और मुस्तफा नें जैसे उसके बाद उन्हे कोई मौका नहीं दिया । ध्यान देने वाली बात है अधिबन जब भी जीते भारत जीता है जब भी वो हारे भारत नें दो मैच हारे और एक ड्रॉ किया मतलब उनका जीतना भारत के लिए बेहद जरूरी है । भारत के लिए एक बार फिर संकट मोचक बनकर सामने आए अनुभवी ग्रांड मास्टर कृष्णन शशि किरण उन्होने कान एमरे को पराजित करते हुए भारत के लिए जीतने की समभावनाए बनाए रखी , चौंथे बोर्ड पर परिमार्जन नेगी नें दास्तान मोहम्मद के खिलाफ जीती बाजी में गलतियाँ करते हुए खुद को कठिनाई में डाल लिया था पर उन्होने वापसी करते हुए भारत की जीत जो की हार की तरफ बढ़ रही थी अंत में ड्रॉ की तरफ मोड दिया । 

 

महिला ​वर्ग - में भारत के लिए आज बेहद बुरा दिन साबित हुआ और उसे रूस के हाथो बड़ी हार का सामना करना पड़ा ,रूस की मजबूत टीम नें भारत को आसानी से 3-1 से पराजित केआर दिया । यह हार एक बात और साबित करती है की भारत की महिला टीम विश्व की शीर्ष 5 टीम में तो शामिल है पर बड़ी टीमों के खिलाफ अभी भी उसका प्रदर्शन उतना बेहतर नहीं रहता और खासतौर पर रूस और चीन के खिलाफ उन्हे अपने प्रदर्शन में सुधार लाना होगा । आज भारत के लिए हरिका द्रोणावली और ईशा करवाड़े नें अपने मैच ड्रॉ खेले तो पद्मिनी राऊत और विजयालक्ष्मी की हार से भारत कभी भी मुक़ाबले में नजर ही नहीं आया । 

 

अब तीन राउंड खेले जाने बाकी है जबकि पुरुष वर्ग में रूस 11 अंक बनाकर सबसे आगे चल रहा है उसके पीछे चीन ( 10 अंक ​) दूसरे , पोलेंड और टर्की (8 अंक) तीसरे और भारत 7 अंक बनाकर चौथे स्थान पर चल रहा है । महिला वर्ग में रूस 10 अंक बनाकर टाईब्रेक के आधार पर पहले ,उक्रेन भी 10अंक के साथ दूसरे ,चीन 8 अंक के साथ तीसरे ,पोलेंड और भारत 7 अंको के साथ क्रमशः चौंथे और पांचवे स्थान पर चल रहे है । 

 

निकलेश जैन ​