Sports

नई दिल्ली: वर्ष 2018 महिला विश्वकप में क्वालिफाई करने के लक्ष्य के साथ भारतीय हॉकी टीम शनिवार तड़के 8 जुलाई से शुरू होने जा रहे हॉकी वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल में हिस्सा लेने के लिए दक्षिण अफ्रीका दौरे पर रवाना होगी। 

जोहानसबर्ग में वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल मुकाबले 8 जुलाई से शुरू होंगे जहां 18 सदस्यीय भारतीय टीम की कमान अनुभवी स्ट्राइकर रानी के हाथों में होगी। महिला टीम दक्षिण अफ्रीका रवाना होने से पूर्व पिछले 6 दिनों से नई दिल्ली में ही रह रही है और इंदिरा गांधी हवाई अड्डे से रवाना होगी।  टीम के राष्ट्रीय कोच शुअर्ड मरीने ने दौरे से पूर्व कहा कि हमने अंडर-18 लड़कों की टीम के साथ पिछले कुछ दिनों में कई मैच खेले हैं। हम लड़कों के साथ खेलकर देखना चाहते थे कि टीम कितनी तेकाी और आक्रामकता के साथ खेल सकती है। इसके अलावा शारीरिक रूप से भी हम टीम को टैस्ट करना चाहते थे।

इस महीने के शुरूआत में महिला हॉकी टीम ने शिलारू के साई सेंटर में भी तैयारियां की थी जो काफी ऊंचाई पर है और इसका मकसद जोहानसबर्ग की स्थितियों के अनुकूल खुद को ढालना था। वैज्ञानिक सलाहकार वाएने लोम्बार्ड के मार्गदर्शन में टीम ने काफी कड़ी ट्रेनिंग की है और अपनी तेजी, लचीलापन और फिटनेस को जांचना था।