Sports

नई दिल्ली: कहते हैं अगर इंसान जिंदगी में कुछ हासिल करने की ठान ले तो फिर कठिन रास्ते भी उसकी हिम्मत के आगे अपना रुख बदल लेते हैं। इसी बात पर कायम रहते हुए राजौंद के एक शूटिंग रेंज के छात्र विनय राणा ने भी कड़ी मुश्किलों में अपनी मंजिल को पाया है। 

राइफल शूटिंग में जीता गोल्ड
विनय कैंसर जैसी भयानक बीमारी से जिंदगी की जंग लड़ रहा था और इसी बीच उसने रूस के मास्को में शतरंज राइफल शूटिंग प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीता। इस प्रतियोगिता में कुल 22 देशों के खिलाड़ियों ने भाग लिया है। 11वीं कक्षा का मेडिकल स्टूडेंट है और कैंसर से पीड़ित होने के बाद बेटे की उपलब्धियों पर उसके माता-पिता काफी खुश हैं। शूटिंग रेंज की इंचार्ज महिला थाना एसएचओ निर्मला ने शूटिंग रेंज में छात्र विनय राणा का निशुल्क कोचिंग राइफल देने के लिए ऐलान किया है। 

कैंसर का 9 महीने तक चला था इलाज 
साल 2015 में डॉक्टरों ने बताया कि विनय को घुटनों का कैंसर है। जिसके बाद मुंबई में 9 महीने तक उसका इलाज चला। इलाज के बाद टाटा मैमोरियल इनपेक फाउंडेशन ने रूस में होने वाली गिफ्ट ऑफ लाइफ फाउंडेशन विभिन्न प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए विनय को लेकर गई। गिफ्ट ऑफ लाइन फाउंडेशन द्वारा प्रतियोगिताओं में 22 देशों के विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया। इसमें बीमारियों से पीड़ित विद्यार्थी हिस्सा लेते हैं।