Sports

नई दिल्ली: भारतीय टीम के तेज गेंदबाज उमेश यादव ने सरकारी नौकरी हासिल कर अपने पिता का 10 साल पुराना सपना पूरा कर दिया है। उनके पिता तिलक यादव का सपना था कि उनका बेटा सरकारी नौकरी में काम करे और अब उनकी यह इच्छा यादव ने पूरी कर दी। उमेश यादव अब रिजर्व बैंक के अधिकारी बन चुके हैं। सोमवार 17 जुलाई को उन्होंने असिस्टेंट मैनेजर पद के लिए सभी औपचारिक्ताएं पूरी कीं।

पुलिस विभाग में कर चुके हैं अप्लाई
सरकारी नौकरी हासिल करने के लिए यादव पहले भी मेहनत कर चुके हैं, जिसके लिए उन्होंने पुलिस की भर्ती भी देखी थी।  उन्होंने 10 साल पहले पुलिस विभाग में कॉन्स्टेबल पद के लिए अप्लाई किया था पर वे एग्जाम में कामयाबी हासिल नहीं कर पाए। यादव अब बैंक की सरकारी नौकरी हासिल कर चुके हैं और वह नागपुर ऑफिस में असिस्टेंट मैनेजर का पद संभालेंगे।

खबरों के अनुसार उमेश यादव की इस नौकरी के लिए बातचीत चैम्पियंस ट्रॉफी 2017 के पहले से चल रही थी। स्पोट्र्स कोटा के तहत मई 2017 में ही उनकी नौकरी पक्की हो गई थी लेकिन इंग्लैंड दौरे के चलते वह औपचारिक्ताएं पूरी नहीं कर पाए। सूत्र ने आगे कहा, 'आरबीआई से बेहतर संस्थान उन्हें नहीं मिल सकता। हालांकि आईपीएल की वजह से वह अधिकतर मौजूदा क्रिकेटरों की तरह आर्थिक रूप से सुरक्षित हैं लेकिन एक सिक्योर जॉब होना हमेशा अच्छा होता है।'