Sports

विशाखापत्तनम: लेग स्पिनर अमित मिश्रा न्यूजीलैंड के खिलाफ पांचवें और अंतिम वनडे में शनिवार को 18 रन पर पांच विकेट की शानदार गेंदबाजी की बदौलत ‘मैन आफ द मैच’ चुने गए। मिश्रा को सीरीज में 14.33 के प्रभावशाली औसत से सर्वाधिक 15 विकेट लेने के लिए ‘मैन आफ द सीरीज’ का पुरस्कार भी मिला। मिश्रा के आखिरी मैच के प्रदर्शन के कारण ही भारत ने न्यूजीलैंड को 190 रन से रौंदकर पांच मैचों की सीरीज 3-2 से जीत ली।   

लेग स्पिनर मिश्रा का ‘मैन आफ द सीरीज’ के लिए रन मशीन विराट कोहली के साथ मुकाबला था जिन्होंने पांच मैचों में एक शतक सहित 358 रन बनाए लेकिन 33 वर्षीय मिश्रा की बेहतरीन गेंदबाजी ने उन्हें मैन आफ द सीरीज का पुरस्कार दिला दिया। अपना पुरस्कार ग्रहण करने के बाद मिश्रा ने कहा, यह टीम के लिए बहुत अच्छा है, यदि मैं ऐसा प्रदर्शन करता हूं। टीम ने मुश्किल समय में हमेशा मेरा समर्थन किया है। उन्होंने कहा, शुरुआत में मैं थोड़ा तनाव में था लेकिन कप्तान धोनी ने मुझे शांत रहने और विकेट पर गेंद डालने के लिये कहा। उनके इसी समर्थन से मैं अच्छी गेंदबाजी कर पाया हूं। 

पिच में उछाल और स्पिन दोनों था जिसका मुझे फायदा मिला। कोच अनिल कुंबले ने भी मैच से पहले मुझसे अपनी ताकत और ब्लाइट गेंदों पर भरोसा रखने को कहा था। मिश्रा ने अक्षर पटेल की सराहना करते हुये कहा, दूसरे छोर पर युवा गेंदबाज ऐसी गेंदबाजी कर रहा हो तो यह देश के लिए अच्छा है। मैं अपने प्रदर्शन से खुश हूं और उम्मीद करता हूं कि आगे भी इसे जारी रखूंगा। इस प्रदर्शन का सारा श्रेय मेरे कोचों,एमएस ,कोहली और सभी साथियों को जाता है।