Sports

नई दिल्ली : घुटने की सर्जरी कराने के बाद वापसी करने वाली शीर्ष भारतीय शटलर साइना नेहवाल ने कहा कि उन्हें कभी कभी लगता है कि उनका बैडमिंटन करियर चोटों के कारण समाप्त हो सकता है।   

साइना को हाल में अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति की एथलेटिक्स आयोग का सदस्य बनाया गया। वह 15 नवंबर से शुरू होने वाले चाइना सुपर सीरीज प्रीमियर में वापसी करेंगी। छब्बीस वर्षीय साइना को रियो ओलंपिक से एक हफ्ते पहले घुटने की परेशानी शुरू हो गई थी और वह खेलों में भी इसी चोट के साथ खेली और दूसरे दौर के मैच में हारकर बाहर हो गई।  साइना ने डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डाट ईएसपीएन डाट इन से कहा, ‘‘लोग सोचेंगे कि मेरा करियर खत्म हो जायेगा और मैं वापसी नहीं करूंगी। मुझे भी दिल में कहीं लगा कि शायद मेरा कैरियर खत्म हो गया है, इसलिए देखते हैं क्या होता है। शायद, आप नहीं जान सकते कि क्या होगा। ’’ 

उन्होंने हालांकि कहा कि वह कड़ी मेहनत जारी रखेंगी, विशेषकर जिस विभाग में वह कमजोर हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं सिर्फ कड़ी मेहनत करना चाहती हूं, मैं अपने शरीर का ध्यान रखना चाहती हूं और जिस विभाग में कमजोर हूं, उस पर काम करना चाहती हूं। मैं जीत या हार के बारे में नहीं सोचना चाहती। ’’