Sports

न्यूयार्क : विश्व की नंबर दो खिलाड़ी अमरीका की सेरेना विलियम्स ने कंधे की चोट के कारण प्रतिष्ठित वर्ष के आखिरी डब्ल्यूटीए फाइनल्स टेनिस टूर्नामेंट से नाम वापिस ले लिया है।  रैंकिंग में लंबे समय तक शीर्ष पर काबिज रहने के बाद हाल ही में दूसरे स्थान पर खिसक गयीं 22 बार की ग्रैंड स्लेम चैंपियन सेरेना ने सोमवार को ही इसकी जानकारी दी।

सेरेना इस वर्ष फिटनेस समस्या से जूझती रहीं हैं और उन्होंने केवल आठ टूर्नामेंटों में ही हिस्सा लिया है। उनकी जगह अब जर्मनी की एंजेलिक केर्बर विश्व की नंबर एक खिलाड़ी हैं। 35 वर्षीय सेरेना ने डब्ल्यूटीए वेबसाइट पर एक वीडियो संदेश में कहा मेरे लिये यह वर्ष बहुत कठिनाईभरा रहा है और अब कंधे की चोट के बाद मेरे डाक्टरों ने मुझे घर पर रहकर आराम करने की सलाह दी है।

मेरे पास  डब्ल्यूटीए टूर्नामेंट की सुनहरी यादें हैं और मैं इस बार इसमें नहीं खेल पाने से अपने प्रशंसकों को बहुत याद करूंगी। इस वर्ष सेरेना ने वुहान ओपन ,चाइना ओपन और सिनसनाटी ओपन में भी हिस्सा नहीं लिया था। उन्होंने बताया कि वह अगले कुछ सप्ताह तक कोर्ट से बाहर रहेंगी। सेरेना रियो ओपन और यूएस ओपन में भी कंधे की चोट से जूझ रहीं थीं और आखिरी ग्रैंड स्लेम में उन्हें 10वीं सीड चेक गणराज्य की कैरोलीना प्लिस्कोवा से सेमीफाइनल में हार झेलनी पड़ी थी।

अमरीकी खिलाड़ी ने इस वर्ष रोम और विंबलडन में ही खिताब जीते हैं। उन्होंने इस वर्ष अपना 22वां स्लेम जीता था। जिसकी बदौलत वह ओपन युग में एकल ग्रैंड स्लेम के मामले में स्टेफी ग्राफ के बराबर पहुंच गयीं हैं। वर्ष की शीर्ष खिलाड़यिों के बीच होने वाले इस टूर्नामेंट के लिये केर्बर, सिमोना हालेप, एग्निज्स्का रदवांस्का, कैरोलीन प्लिस्कोवा, गरबाइन मुगुरूजा, मैडिसन की और डोमिनिका सिबुलकोवा पहले ही क्वालीफाई कर चुकी हैं।