Sports

नई दिल्ली: भारत की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा डब्ल्यूटीए फाइनल्स में अपने खिताब का बचाव तो नहीं कर सकीं लेकिन वह लगातार दूसरी बार वर्ष का समापन दुनिया की नंबर एक महिला युगल खिलाड़ी के रूप में करेंगी। सानिया और स्विटजरलैंड की मार्टिना हिंगिस की जोड़ी डब्ल्यूटीए फाइनल्स के सेमीफाइनल में हार गई थीं जिससे वह वर्ष के अंतिम डब्ल्यूटीए टूर्नामेंट में अपने खिताब का बचाव नहीं कर सकी थीं लेकिन ताजा जारी डब्ल्यूटीए रैंकिंग में वह अपने शीर्ष स्थान पर बरकरार हैं और लगातार दूसरे वर्ष महिला युगल रैंकिंग में बतौर नंबर वन टेनिस खिलाड़ी साल का समापन करेंगी। गत चैंपियन सानिया और हिंगिस सेमीफाइनल में एकातेरिना माकारोवा तथा एलीना वेस्नीना की जोड़ी से हार गई थीं। सानिया के डब्ल्यूटीए रैंकिंग में 8135 रेटिंग अंक हैं जबकि उनकी पूर्व जोड़ीदार हिंगिस वर्ष का समापन चौथे नंबर पर करेंगी।

हिंगिस और सानिया एक साथ शीर्ष रैंकिंग पर थीं लेकिन हाल में स्विस खिलाड़ी रैंकिंग में नीचे फिसल गई। दूसरे नंबर पर फ्रांस की कैरोलीन गार्सिया और क्रिस्टीना ब्लोदेनोविच हैं। सानिया ने ट्विटर पर भी नंबर वन बने रहने पर खुशी जताई। उन्होंने कहा कि लगातार दूसरे वर्ष नंबर वन बने रहना बड़े सम्मान की बात है। भारतीय टेनिस खिलाड़ी ने इस वर्ष हिंगिस के साथ आस्ट्रेलियन ओपन और बारबोरा स्ट्राइकोवा के साथ सिनसिनाटी मास्टर्स खिताब जीता है। वह अगस्त में हिंगिस से अलग हो गई थीं और चेक गणराज्य की बारबोरा साथ खेल रही हैं। दूसरी ओर पुरूष युगल रैंकिंग में रोहन बोपन्ना अपने 22वें स्थान पर बरकरार हैं जबकि लिएंडर पेस एक स्थान गिरकर 56वें स्थान पर खिसक गये हैं। पुरूष एकल रैंकिंग में साकेत मिनेनी 10 स्थान उठकर 193वें नंबर पर पहुंच गये हैं और शीर्ष 200 एकल खिलाड़यिों में भारत के सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग खिलाड़ी हैं।