Sports

मलेशिया: पेनल्टी कार्नर विशेषज्ञ रूपिंदर पाल सिंह के 6 गोल की मदद से भारत ने आज यहां कुआंटन हाकी स्टेडियम में अपने अभियान की शानदार शुरूआत करते हुए चौथी एशियाई चैम्पियन्स ट्राफी हाकी टूर्नामेंट में जापान को 10-2 से हराया।  

रूपिंदर ने जापान के डिफेंडरों को मुश्किल में डालते हुए अपने पहले 4 पेनल्टी कार्नर को गोल में बदला।  रूपिंदर के अलावा स्ट्राइकर रमनदीप सिंह ने दो गोल दागे जबकि तालविंदर सिंह और यूसुफ अफ्फान ने भी एक-एक गोल किया।  जापान की ओर से केंता तनाका और हिरोमासा ओचियाई ने एक-एक गोल दागा।  

रूपिंदर ने भारत के 10 पेनल्टी कार्नर में से 6 को गोल में बदला। जापान के लिए आज का दिन भुलाने वाला रहा जिसने 2013 में पिछली एशियाई चैम्पियन्स ट्राफी में पाकिस्तान के बाद रजत पदक हासिल किया था।  रमनदीप ने दूसरे ही मिनट में सरदार सिंह के पास पर जापान के गोलकीपर मशाहितो कुनितोमो को पछाड़कर गोल दागते हुए भारत को बढ़त दिलाई।  रूपिंदर ने 7वें मिनट में भारत के पहले पेनल्टी कार्नर को गोल में बदला जबकि तीन मिनट बाद स्कोर 3-0 कर दिया।