Sports

लंदन: विश्व के नंबर एक खिलाड़ी ब्रिटेन के एंडी मरे, स्पेन के राफेल नडाल और सर्बिया के नोवाक जोकोविच के विंबलडन टेनिस चैंपियनशिप से बाहर हो जाने के बाद अब ‘बिग फोर’के एकमात्र खिलाड़ी बचे स्विस स्टार रोजर फेडरर पर सभी की निगाहें टिक गई हैं। 

‘फैबुलस फोर’कहे जाने वाले चार दिग्गजों में केवल फेडरर ही विंबलडन में अभी तक मोर्चा संभाले हुये हैं और सेमीफाइनल में जगह बना पाये हैं जहां उनके सामने चेक गणराज्य के टॉमस बेर्दिच की चुनौती रहेगी। एक अन्य पुरूष एकल सेमीफाइनल में अमेरिका के सैम क्वेरी और क्रोएशिया के मारिन सिलिच एक दूसरे से भिड़ेंगे।  अंतिम चार के लिये लाइनअप तय होने के बाद अब टूर्नामैंट के शीर्ष वरीय और दिग्गज खिलाड़ियों में केवल 18 बार के ग्रैंड स्लेम चैंपियन फेडरर ही बचे हैं और सभी को उनसे काफी उम्मीदें भी हैं। 

अपने 36वें जन्मदिन से कुछ सप्ताह पहले ही तीसरी सीड फेडरर इस अहम सेमीफाइनल के लिए उतरेंगे जहां उनके सामने बेर्दिच की चुनौती रहेगी जिनके विपक्षी सर्बियाई खिलाड़ी जोकोविच ने क्वार्टरफाइनल में चोट के बाद मैच छोड़ दिया था।  हालांकि फेडरर बिग फोर के धाकड़ खिलाड़ियों में गिने जाते हैं जिनके पास सबसे ज्यादा एकल स्लेम हैं। इस वर्ष आस्ट्रेलियन ओपन का खिताब जीतने के बाद फ्रेंच ओपन से बाहर रहे पूर्व नंबर एक खिलाड़ी पूरी तरह फिट हैं और लय में भी दिखाई दे रहे हैं। वहीं फेडरर के विपक्षी 11वीं सीड बेर्दिच ने भी सर्बियाई खिलाड़ी के खिलाफ अपने 12 मैचों में लगातार हारने के दुख को पीछे छोड़ दूसरी बार विंबलडन सेमीफाइनल में जगह बना ली है।