Sports

नई दिल्ली: अनिल कुंबले के कोच पद से इस्तीफे के बाद बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति ने रवि शास्त्री को भारतीय पुरुष क्रिकेट टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया है, लेकिन पहले कयास लगाए जा रहे थे कि पूर्व बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग को कोच बनाया जा सकता है, लेकिन जब सहवाग की सेलेक्शन नहीं हुई तो सभी क्रिकेट फैंस का CAC के सामने ये बड़ा सवाल था कि आखिर, इस पद के लिए सहवाग को नियुक्त क्यों नहीं किया गया। 

इस वजह से CAC की पहले पसंद थे रवि शास्त्री
हाल ही एक अखबार के हवाले से एक अधिकारिक सूत्र ने बताया कि क्रिकेट सलाहकार समिति ने ये फैसला बहुत ही सोच समझ से लिया है। रवि शास्त्री टीम इंडिया के मुख्य कोच के लिए CAC की पहले पसंद थे। इसका कारण यह है कि उनको काम करने का तरीका मालूम है। वो जानते हैं कि किस स्थिति में कैसा फैसला लिया जाना चाहिए। उन्होंने टीम के साथ तीन सालों तक काम भी किया है और वो टीम के साथियों के साथ घुले-मिले हैं।

बोर्ड ने जहीर और राहुल की सेलेक्शन पर लिया बड़ा यूटर्न
बता दें कि बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) ने 11 जुलाई को पूर्व क्रिकेटर रवि शास्त्री को भारतीय टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया था जबकि द्रविड़ को विदेशी दौरों पर भारतीय बल्लेबाजी सलाहकार तथा पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान को गेंदबाजी कोच बनाने की घोषणा की थी। लेकिन अब बोर्ड ने अपने इस फैसले पर बड़ा यू-टर्न ले लिया है।