Sports

मुंबईः भारतीय क्रिकेट टीम के प्रमुख कोच रवि शास्त्री ने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को सबसे फिट खिलाड़ी बताते हुए कहा है कि अगर वह फिर रहे तो 2019 का विश्वकप भी खेलेंगे। शास्त्री ने बुधवार को कहा कि धोनी गावस्कर-सचिन के समान हैं इसलिए उनके रिकॉर्ड को सम्मान देना जरूरी है। वह फिटनेस में सबसे आगे और देश के सबसे सफल विकेटकीपर भी हैं। हमने श्रीलंका दौरे पर उनकी बल्लेबाजी देखी हैं। मुझे लगता है कि धोनी अगर फिट रहे तो वह 2019 विश्वकप भी खेल सकते हैं।

युवी-रैना के लिए बंद नहीं हुए दरवाजे
कोच ने टीम इंडिया से बाहर चल रहे विस्फोट बल्लेबाज युवराज सिंह और सुरेश रैना को लेकर कहा कि युवराज-रैना के लिए भारतीय टीम के दरवाजे बंद नही हुए हैं और इनकी वापसी हो सकती है। उन्होंने कहा कि वापसी के लिए फिटनेस जरुरी है और युवराज-रैना अगर फिट होंगे तो उनकी टीम में वापसी होगी। शास्त्री ने 17 सितंबर से भारत और आस्ट्रेलिया के बीच शुरु होने वाली वनडे सीरीज को लेकर कहा कि जो टीम पहले दो मैच जीत लेगी वह सीरीज अपने नाम कर लेगी। उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले दो मैच बहुत महत्वपूर्ण हैं और हमें शुरुआती दोनों मैच जीतने होंगे। शुुरु के दो मैच सीरीज का फैसला कर देंगे। ऑस्ट्रेलिया से हमें जबरदस्त टक्कर मिलेगी। लेकिन हमारा गेंदबाजी आक्रमण बहुत मजबूत है और यंगिस्तान में प्रतिभा बहुत ज्यादा है।ठ

खिलाड़ियों को आराम देना जरुरी
शास्त्री ने खिलाड़ियों को आराम न मिलने पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि जितना क्रिकेट हो रहा है उसके लिए हमें 20-25 खिलाड़ी चाहिए। एक खिलाड़ी के लिए हर फॉर्मेट खेलना बहुत मुश्किल है इसलिए खिलाड़ियों को आराम देना जरूरी है मैंने इस बारे में बीसीसीआई से बात की है कि दौरे और सीरीज के दौरान खिलाड़ियों को आराम मिलना चाहिए। खिलाड़ी मानसिक रूप से थक रहे हैं। शास्त्री ने कप्तान विराट कोहली की आक्रामकता का समर्थन करते हुए कहा कि विराट का जोश में रहना टीम के लिए अच्छा है। उनके सामने घुमाफिरा के बात नहीं कर सकते।

CRICKET की अन्य खबरें पढ़ने के लिए हमें Facebook आैर Twitter पर फोलो करें।