Sports

लाहौर: पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने इंग्लैंड और वेस्टइंडीज की विभिन्न लीगों और काउंटी क्रिकेट में खेल रहे अपने 13 खिलाडिय़ों के अचानक अनापत्ति प्रमाण पत्र रद्द कर उन्हें राष्ट्रीय प्रतिबद्धताओं के लिए स्वदेश बुला लिया है। पाकिस्तानी बोर्ड ने 10 खिलाडिय़ों को विदेशी लीगों में खेलने की अनुमति दी थी जिसमें सात केंद्रीय अनुबंध वाले खिलाड़ी हैं। इन खिलाडिय़ों को कैरेबियाई लीग के संपूर्ण सत्र में खेलने की अनुमति थी जो चार अगस्त से शुरू होकर नौ सितंबर तक चलेगी।

लेकिन बोर्ड ने बिना अनुबंध वाले खिलाडिय़ों कामरान अकमल, सोहेल तनवीर, मोहम्मद सामी को भी रावलपिंडी, फैसलाबाद तथा लाहौर व्हाइट्रस में चुने जाने पर राष्ट्रीय टी 20 कैंप में वापिस बुला लिया है। पीसीबी ने सीपीएल से इमाद वसीम, शोएब मलिक, शाहदाब खान, हसन अली, मोहम्मद हफीज, वहाब रियाज, बाबर आजम, सामी, तनवीर, अकमल को वापिस बुलाया है जबकि इंग्लैंड से सरफराज अहमद, फखर जमान और मोहमद आमिर को वापिस बुलाया गया है। आमिर एसेक्स में सितंबर तक रहने वाले थे जबकि सरफराज को यार्कशायर के लिये खेलना था। वहीं फखर को सोमरसेट के लिये सत्र के आखिर तक खेलना था। 

बोर्ड के इस कदम के पीछे विश्व एकादश के पाकिस्तान दौरे को भी एक वजह माना जा रहा है। सुरक्षा व्यवस्था पर हरी झंडी मिलने के बाद सितंबर में विश्व एकादश लाहौर में सीमित ओवर सीरीज के लिये आ सकती है और इसी को ध्यान में रखते हुये भी पीसीबी जरूरी कदम उठा रहा है ताकि देश में 17 सितंबर को लाहौर में होने वाले महत्वपूर्ण चुनावों के साथ सीरीज को लेकर कोई परेशानी न हो। हालांकि विश्व एकादश और पाकिस्तानी टीम के बीच मैचों का अंतिम फैसला सरकार के हाथों में है। बोर्ड के नये अध्यक्ष नकाम सेठी ने भी कहा है कि से लेकर दोनों पक्षों ने अपनी सहमति दे दी है।